मन की बात में बोले पीएम मोदी, पड़ोसी ने छुरा घोंपने की कोशिश की, दुश्मनी दुष्टों का स्वभाव

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री ने आज मन की बात कार्यक्रम के जरिए देशवासियों से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कारगिल विजय दिवस के मौके पर उन्होंने वीरों को याद किया। उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश पाकिस्तान ने हमाारी पीठ पर छुरा घोंपने की कोाशिश की थी, जिसके बाद दुनिया ने हमारी सेना की ताकत को देखा था। उन्होंने कहा कि उस वक्त भारत पाकिस्तान से मित्रता चाहता था, लेकिन पाकिस्तान ने बड़े-बड़े मंसूबे पालकर करगिल युद्ध का दुस्साहस किया था।

पीएम मोदी ने कहा कि इस युद्ध में भारत के सच्चे पराक्रम की जीत हुई। पीएम ने कहा कि करगिल का युद्ध जिन परिस्थितियों में हुआ वो भारत कभी भूल नहीं सकता है। पाकिस्तान ने बड़े-बड़े मंसूबे पालकर भारत की भूमि हथियाने और अपने अपने यहां चल रहे आंतरिक कलह से ध्यान भटकाने के लिए दुस्साहस किया था। उन्होंने कहा कि दुष्ट का स्वभाव ही होता है हर किसी से बिना वजह दुश्मनी लेना।

पाकिस्तान ऐसा ही कर रहा था। पीएम ने कहा कि स्वभाव के लोग जो हित करता है उसका भी नुकसान ही पहुंचाते हैं। इसलिए भारत की मित्रता की जवाब में पाकिस्तान ने पीठ में छुरा घोंपने की कोशिश की थी। लेकिन इसके बाद भारत ने जो पराक्रम दिखाया वो पूरी दुनिया ने देखा। पीएम ने आगे कहा, आप कल्पना कर सकते हैं ऊंचे पहाड़ों पर बैठा दुश्मन और नीचे से लड़ रही हमारी सेना और वीर जवान।

Gyan Dairy

जीत पहाड़ के ऊंचाई की नहीं भारत की सेनाओं के ऊंचे हौसले और सच्ची वीरता की हुई। मुझे भी उस समय करगिल जाने और वीरता के दर्शन का मौका मिला। वह दिन मेरे जीवन के सबसे अनमोल क्षणों में से है। मैं देख रहा हूं कि आज देशभर में लोग कारगिल विजय को याद कर रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share