मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप हैं : राहुल गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को ट्वीट किया है। उन्होंने कहा है कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप हैं। वे हमारे मन की गहराइयों में बसी मानवता की मूल भावना हैं।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा है कि, ‘मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप हैं। वे हमारे मन की गहराइयों में बसी मानवता की मूल भावना हैं। राम प्रेम हैं, वे कभी घृणा में प्रकट नहीं हो सकते। राम करुणा हैं, वे कभी क्रूरता में प्रकट नहीं हो सकते। राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकते।’

बता दें कि, कांग्रेस के कई नेताओं ने भगवान राम के प्रति अपना लगाव खुलकर जाहिर किया है। पहले ऐसा नहीं था क्योंकि भगवान राम और अयोध्या को अक्सर भारतीय जनता पार्टी के साथ जोड़ कर देखा जाता रहा है।

Gyan Dairy

प्रियंका गांधी ने कहा था कि राम सबमें हैं, राम सबके साथ हैं। सरलता, साहस, संयम, त्याग, वचनवद्धता, दीनबंधु। राम नाम का सार है। प्रियंका ने कहा है कि रामलला के मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम राष्ट्रीय एकता, बंधुत्व और सांस्कृतिक समागम का अवसर बने।

 

Share