दिल्ली में ही छिपा है मौलाना साद, मस्जिद जाकर अदा की जुमे की नमाज

नई दिल्ली। देश में कोरोना को लेकर बड़ी लापरवाही करने वाला तब्लीगी जमात प्रमुख मौलाना साद दिल्ली में ही है। शुक्रवार को मौलाना साद घर से बाहर निकला और जाकिर नगर की एक मस्जिद में जुमे की नमाज अदा की। मौलाना साद एफआईआर दर्ज होने के बाद अपने वकीलों के माध्यम से सेल्फ क्वारंटाइन में होने की बात कहते हुए दिल्ली पुलिस की जांच में शामिल होने से बच रहा था।

दिल्ली के जाकिर नगर वेस्ट इलाके में मौलाना साद ने जुम्मे की नमाज अदा की। वह दोपहर के वक़्त मस्जिद में पहुंचा और थोड़ी देर रुककर वापस चला गया। निजामुद्दीन स्थित मरकज में लॉकडाउन के दौरान तबलीगी जमात का आयोजन करा कर चर्चा में आने वाला मौलाना साद पहली बार घर से बाहर निकला। दिल्ली पुलिस इस बारे में जानकारी जुटा रही है कि वह कब मस्जिद आया और उसके साथ और कौन-कौन से लोग थे।

Gyan Dairy

अबतक की जांच के आधार पर जांच एजेंसियां मरकज के फंडिंग कनेक्शन पर अपनी बारीक नजर गड़ा रखी हैं। इसलिए क्राइम ब्रांच और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) दोनों ही एजेंसियों का शिकंजा कसता जा रहा है। जांच टीम के निशाने पर एक ट्रस्ट भी है, जिसकी भूमिका संदेह के घेरे में है। क्राइम ब्रांच सूत्रों की मानें तो इस ट्रस्ट को लेकर मौलाना साद समेत कुल 11 लोगों की भूमिका की जांच हो रही है। उधर करीब 18 नंबरों की जांच के दौरान मौलाना साद, उनके के बेटों और जमात के पदाधिकारियों व करीबी रिश्तेदारों के पूरे नेटवर्क की जांच की जा रही है।

Share