मौसम विभाग की चेतावनी, कहा- इन राज्यों में तेजी से आयेगी आंधी और होगी मूसलाधार बारिश

नई दिल्लीः हर वर्ष मार्च के महीने में मौसम काफी परिवर्तित होता है। इस महीने तापमान काफी नीचे ऊपर होता रहता है। पश्चिमी विक्षोभ के चलते उत्तरी भारत के पहाड़ी राज्यों में इन दिनों बर्फबारी और बारिश भी देखने को मिल रही है, जिससे मैदानी इलाकों में भी मौसम करवट बदल रही है। इस बीच भारतीय मौसम विभाग ने देश के कई राज्यों में बारिश की संभावना जताई गई है।

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक अगले 12 घंटो में दिल्‍ली, हरियाणा, राजस्‍थान और उत्‍तर प्रदेश के कुछ इलाकों में ओलावृष्टि बारिश की संभावना जताई गई है। इन शहरों में कैथल, करनाल, नरवाना, राजौंद, असौंद, जींद, पानीपत, बड़ौत, बागपत, दौराला, मेरठ, दिल्‍ली, गाजियाबाद, झज्‍जर, मोदीनगर, भरतपुर, गोहाना, रोहतक, भिवानी, सोनीपत, महम, कुरुक्षेत्र, मथुरा, आगरा, एटा, फरीदाबाद, समेत अन्‍य शहर भी शामिल हैं।

इसके अलावा मौसम विभाग ने बताया है कि 23 मार्च को जम्‍मू कश्‍मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्‍तान, मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड के अधिकांश इलाकों में भारी बर्फबारी हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार 23 मार्च को अजमेर, भरतपुर,सीकर, झुंझुनू, अलवर, दौसा, भीलवाड़ा जयपुर, सवाई माधोपुर, टोंक जिले में अचानक तेज हवाएं, ओलावृष्टि और आंधी चलने की संभावना है। पश्चिमी राजस्थान के जिलों गंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर, चुरू, नागोर, जोधपुर में ओलावृष्टि के साथ तेज हवाएं चलने की उम्मीद है।

Gyan Dairy

वहीं, मध्य प्रदेश के कई शहरों में सोमवार को हल्के बादल छाए रहे। मौसम वैज्ञानिकों ने कहा कि मंगलवार को भी इंदौर, भोपाल सहित कई जिलों में हल्की बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा 23 मार्च को एक और पश्चिमी विक्षोभ उत्तर पश्चिम भारत में सक्रिय होगा, जिसका असर मध्यप्रदेश पर भी होगा। इसकी वजह से आने वाले दिनों में तापमान में एक से दो डिग्री की बढ़ोतरी हो सकती है।

छत्तीसगढ़ का भी कुछ यही हाल है। यहां चक्रवात के सक्रिय होने की वजह से एक-दो जगहों पर, खास तौर से बस्तर जिले के आसपास बारिश होने की संभावना है। वहीं, 23 और 24 मार्च को गरज के साथ छींटे पड़ने या हल्की बरसात की भी आशंका जताई गई है।

Share