गहलोत सरकार के मंत्री बोले-बीजेपी कार्यकर्ता नहीं है राज्यपाल, सरकार के मुखिया हैं

जयपुर। राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच सीएम गहलोत के करीबी मंत्री माने जाने वाले मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास का एक बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने अपने बयान में कहा है कि राजस्थान के राज्यपाल बीजेपी के कार्यकर्ता नहीं है बल्कि वे राजस्थान सरकार के मुखिया हैं। उन्होंने कहा कि यह हमारा नैतिक और कानूनी अधिकार है कि हम अपनी समस्याओं को बताने के लिए मुखिया के घर जाएं, उनसे कानून की रक्षा करने और हमारे अधिकारों की मांग करने का अनुरोध करें।

बता दें कि, राजस्थान विधानसभा का सत्र बुलाने की मांग को लेकर कांग्रेस के विधायकों ने राजभवन में धरना दिया था। इस दौरान सीएम अशोक गहलोत ने कहा था कि अगर विधानसभा सत्र की मांग को लेकर राज्य की 8 करोड़ जनता धरना देती है तो इसकी जिम्मेदारी उनकी नहीं होगी। सीएम के इस बयान पर राजस्थान बीजेपी ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी और इसे आपराधिक कृत्य के समान बताया था।

अब प्रताप खचरियावास ने सीएम के इस बयान का बयान किया है और इस पर सफाई दी है। उन्होंने कहा कि सीएम गहलोत ने कहा था कि लोग राजभवन आएंगे, इसका मतलब ये नहीं था कि ये लोग राजभवन के अंदर घुस जाएंगे। उन्होंने कहा कि यदि राज्यपाल पर एक कंकड भी फेंका जाता है तो सीएम गहलोत खुद पहले इसका सामना करेंगे। राजस्थान कैबिनेट इसका सामना करेगी, राजस्थान पुलिस इसे देखेगी।

Gyan Dairy

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share