नारायण राणे विवाद: बीजेपी उद्धठ ठाकरे को बताएगी आजादी के हुए कितने साल, 75 हजार खत लिखने की तैयारी

मुंबई। केन्द्रीय मंत्री नारायण राणे द्वारा महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे पर की गई विवादित टिप्पणी का मामला थमता नजर नहीं आ रहा है। महाराष्ट्र सरकार द्वारा केन्द्रीय मंत्री नारायण राणे की गिरफ्तारी के बाद मामला तूल पकड़ता जा रहा है। अब भाजपा विधायक आशीष शेलार ने कहा कि ’15 अगस्त के मौके पर सीएम उद्धव ठाकरे यह भूल गए थे कि देश को आजाद हुए कितने साल हो गए हैं। बीजेपी के राज्य प्रमुख चंद्रकांत पाटिल की लीडरशिप में हम 75,000 खत लिखेंगे और सीएम उद्धव ठाकरे को भेजेंगे। इन खतों के जरिए हम उन्हें याद दिलाएंगे कि आजादी के कितने साल हुए हैं ताकि वे कभी यह बात न भूलें।

बता दें कि 15 अगस्त को कार्यक्रम के दौरान सीएम उद्धव ठाकरे ने अपने पीछे खड़े एक शख्स से पूछा था कि देश को आजाद हुए कितने साल हुए हैं। इसी का जिक्र करते हुए नारायण राणे ने कहा था कि यदि मैं उस वक्त होता तो उद्धव ठाकरे को थप्पड़ मार देता। नारायण राणे की टिप्पणी पर घमासान मच गया है। महाराष्ट्र पुलिस ने मंगलवार की दोपहर को नारायण राणे को गिरफ्तार कर लिया था। देर रात केन्द्रीय मंत्रर को महाड़ की अदालत से जमानत मिल गई थी।

Gyan Dairy

इस बीच महाराष्ट्र सरकार के मंत्री अनिल परब के एक वीडियो पर विवाद छिड़ गया है। वीडियो में शिवसेना नेता अनिल परब पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी को फोन पर आदेश दे रहे हैं कि नारायण राणे को तत्काल फोर्स का इस्तेमाल करके गिरफ्तार करो। इस वीडियो के सामने आने के बाद अब बीजेपी ने उनके खिलाफ अदालत जाने की बात कही है। आशीष शेलार ने कहा, ‘नारायण राणे की गिरफ्तारी के पीछे अनिल परब का हाथ था।

Share