पीएम मोदी के मन की बात सुन रहे हैं अब वो किसानों के मन की बात सुनेंः किसान संगठन

नई दिल्ली। तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन का समर्थन बढ़ता जा रहा है। दिल्ली को घेरकर बॉर्डरों पर हजारों किसान डटे हैं, वहीं देश के तमाम राजनीतिक दल 8 दिसंबर को किसानों के ‘भारत बंद’ के आह्वान के पक्ष में मैदान में उतर आए हैं। इस बीच किसानों ने कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मन की बात’ सुनते रहे हैं।

अब पीएम किसानों के मन की बात सुनें। दिल्ली में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में रविवार को किसानों ने भारत बंद की रूपरेखा रखी। बता दें कि, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, तेलंगाना राष्ट्र समिति के बाद आम आदमी पार्टी ने भी बंद के पूर्ण समर्थन का एलान कर दिया है।

Gyan Dairy

उधर, हरियाणा मूल के बॉक्सर विजेंदर कुमार ने भी कृषि कानून वापस नहीं लिए जाने पर अपना ‘खेल रत्न’ अवॉर्ड वापस करने की चेतावनी दी है। इधर, सिंघु बॉर्डर पर आगे की रणनीति के लिए किसानों की बैठक जारी है।

Share