अब कोरोना वैक्‍सीन लगावाने के लिए Co-WIN एप नही बल्कि पोर्टल पर कराना होगा रजिस्‍ट्रेशन

नई दिल्ली: सोमवार यानी एक मार्च से कोरोना वैक्सीन लगने का दूसरा चरण शुरू हुआ है। Co-WIN एप पर एक गड़बड़ की रिपोर्ट के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को स्पष्ट किया कि जो लोग 1 मार्च से शुरू हुए COVID-19 टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण में टीका लगवाना चाहते हैं, उन्हें स्वयं को Co-WIN एप की जगह पोर्टल पर रजिस्‍टर करना पड़ेगा।

पंजीकरण आज सुबह 9 बजे Www.Cowin.Gov.In पर खोला गया। सभी नागरिक जो वृद्ध हैं, या 1 जनवरी, 2022 को 60 या उससे अधिक की आयु के होंगे, वह स्वयं का नाम यहां पर जाकर रजिस्‍टर कर सकते हैं। इसके अलावा ऐसे सभी नागरिक जो 1 जनवरी, 2022 को 45 से 59 वर्ष की आयु के हैं और उनको गंभीर बीमारी हैं, वह भी यहां पर रजिस्‍टर कर सकते हैं।

इससे पहले आज, कई लोगों ने सोशल मीडिया पर बताया कि Co-WIN एप वन-टाइम पासवर्ड (ओटीपी) को उनके मोबाइल नंबरों पर नहीं भेज रहा है, इसलिए रजिस्‍टेंशन प्रक्रिया में बाधा है।

इसके बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने ट्विटर का सहारा लिया। मंत्रालय ने कहा, ”लाभार्थी रजिस्‍ट्रेशन के लिए कोई Co-WIN ऐप नहीं है। प्ले स्टोर पर एप केवल प्रशासकों के लिए है।” इसमें यह भी कहा गया, “कोविड टीकाकरण के लिए पंजीकरण और बुकिंग #CoWIN पोर्टल के माध्यम से किया जाना है: Http://Cowin.Gov.In।”

Gyan Dairy

Cowin.Gov.In पंजीकरण
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस चरण में कोवड-19 रोग के खिलाफ बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान का नेतृत्व किया, क्योंकि उन्होंने आज एम्स में जाब लिया।

जो लोग इस चरण में टीकाकरण पाने के लिए पात्र हैं, वे चरण-दर-चरण प्रक्रिया के बाद अपने मोबाइल नंबर के माध्यम से Co-WIN 2.0 पोर्टल पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं। पंजीकरण के बाद, पोर्टल उपलब्ध शेड्यूल की तारीख और समय के साथ COVID टीकाकरण केंद्रों (CVC) के रूप में नामित सरकारी और निजी अस्पतालों की सूची प्रस्तुत करेगा।

कोई अपनी पसंद का सीवीसी चुन सकता है और टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट बुक कर सकता है।

Share