पाकिस्तान में जबरन कराया जा रहा हिंदू लड़कियों का धर्म परिवर्तन, शिकायत पर पुलिस भी करती है जुल्म

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक खासकर हिंदुओं का उत्पीड़न थमने का नाम नहीं ले रहा है। हिंसा और जबरन धर्मांतरण की खबरें लगातार सामने आती रहती हैं। सोमवार को भी दो मामले सामने आए हैं। पाकिस्तान के सिंध प्रांत में हिंदू लड़कियों को अगवा कर जबरन उनका धर्म परिवर्तन करवा दिया गया।

सिंध प्रांत के मीरपुर खास जिला के रइस नेहाल खान गांव में हथियारबंद लोगों ने पंद्रह साल की राज सिंह कोहली की बेटी सुनात्रा को अगवा कर लिया। लड़की के परिजन जब मामला दर्ज करवाने के लिए थाने पहुंचे तो वहां भी उन्हें प्रताड़ित किया गया। दिनभर इंतजार करने के बाद पुलिस ने आखिरकार मामला दर्ज किया।

इसी दिन 19 साल की भगवंती कोहली को भी अगवा कर लिया गया। सिंध प्रांत के मीरपुर खास जिला के हाजी सइद बुर्गादी गांव में उसका जबरन धर्मांतरण करा दिया गया। उससे इस्लाम धर्म कबूल करवाया गया। परिजनों के मुताबिक, भगवंती की शादी हो चुकी है। धर्मांतरण से उसकी जिंदगी बर्बाद हो जाएगी।

Gyan Dairy

भगवंती के परिजनों ने बेटी की वापसी के लिए प्रदर्शन भी किया। अगवा करने वालों ने थाने में लड़की के इस्लाम धर्म कबूल करने का सर्टिफिकेट थाने में दिया। आपको बता दें कि हिंदू और अन्य अल्पसंख्यक लगातार वहां मुसलमानों और प्रशासन के द्वारा प्रताड़ना के शिकार हो रहे हैं।

एक अन्य मामले में भील (हिंदू) कम्युनिटी के लोगों पर हमले की बात सामने आई है। पुरुषों, महिलाओं और बच्चों को बुरी तरह से पीटा गया। उनके घर उजाड़ दिए गए। यह घटना सिँध के ही थारपर्कर जिला के बरमालियो गांव की है। इस पूरे इलाके में ही हिंदुओं के खिलाफ अत्याचार बढ़ते जा रहे हैं। उनके पास ना खाने के लिए भोजन, न पीने के लिए पानी और ना ही रहने के लिए घर हैं।

Share