परमबीर का ‘लेटर बम’: बचाव में आए शरद पवार, कहा-अनिल देशमुख पर लगाए गए आरोप हैं गलत

नई दिल्ली। मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के ‘लेटर बम’ से हंगामा मचा हुआ है। महाराष्ट्र सरकार इस लेटर के बाद से बैकफुट पर है। विपक्ष राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे की मांग कर रहा है।

इस बीच एनसीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार ने दिल्ली में एक प्रेसवार्ता में महाराष्ट्र के गृहमंत्री का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि देशमुख 15 फरवरी से 27 फरवरी तक कोरोना के चलते अस्पताल में भर्ती थे। ऐसे में उनकी और सचिन वाजे की मुलाकात ही नहीं संभव है।

उन्होंने आरोपों को गलत बताया है। उन्होंने कहा कि परमबीर सिंह जांच की दिशा को भटकाने के लिए इस तरह के गलत आरोप लगा रहे हैं। यह भी कहा कि चिट्ठी में उल्लेखित समय के दौरान वाजे और देशमुख बातचीत होने का कोई सबूत नहीं है। इसके साथ ही शरद पवार ने कहा कि देशमुख के इस्तीफे का कोई सवाल ही नहीं उठता है।

Gyan Dairy

 

 

Share