रंगरलियां मना रहे थानेदार की लोगों ने की जमकर धुनाई, बचने के लिए जा छिपा चौकी में

गांवसभरा के लोगों ने चौकी इंचार्ज एएसआई को सरकारी क्वार्टरे में महिला के साथ रंगरलियां मनाते हुए मौके पर ही धर दबोचा। लोगों ने उसकी जमकर धुनाई की। मार से बचने के लिए एएसआई भागकर चौकी में जा छुपा। भड़के लोग और किसान संघर्ष कमेटी के नेता पीछे-पीछे चौकी पहुंच गए और घेराव कर धरना लगा दिया। घटना की सूचना मिलते ही एसपी तिलक राज और पट्टी के डीएसपी सोहन सिंह मौके पर पहुंचे। लोगों के गुस्से को देखते हुए आरोपी एएसआई संजीवन सिंह को ससपेंड कर उसी हवालात में बंद कर दिया जहांं का वह इंचार्ज था। इसके अलावा साथ में पकड़ी गई महिला को लेडी पुलिस के हवाले कर दिया।

मामले की जांच कर रहे पट्टी के डीएसपी सोहन सिंह ने बताया कि गांव सभरा के लोगों की शिकायत पर आरोपी चौकी इंचार्ज एएसआई संजीवन सिंह को सस्पेंड कर दिया है। साथ में पकड़ी गई महिला घरियाला की रहने वाली है। ससुरालियों से झगड़े के चलते अमृतसर अपने मायके रह रही है। उसे लेडी पुलिस के हवाले कर दिया।

Gyan Dairy

किसान संघर्ष कमेटी के महासचिव सुखविंदर सिंह सभरा, प्रदेश नेता इंदरजीत सिंह, सोनू सभरा आदि ने कहा, चौकी इंचार्ज पिछले लंबे समय से अपने क्वार्टर में महिलाओं को लेकर आता था और रंगरलियां मनाता था। उसकी हरकतों से गांव के लोग काफी परेशान थे। उन्होंने एएसआई संजीवन सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा, गांव सभरा और चौकी के अधीन आने वाले बाकी गांवों में सरेआम हेरोइन, नशीली गोलियां अन्य नशे का धंधा भी एएसआई की शह पर चल रहा है। क्योंकि वह तस्करों से हफ्ता लेता था। जब भी गांव वाले किसी तस्कर की सूचना देते थे तो चौकी इंचार्ज तस्करों को पहले ही सूचना देकर उन्हें वहां से भगा देता था। इसके बाद रेड करता था।

Share