यहां राष्‍ट्रपति ने दी सेना को रेप करने की इजाजत

आपने वेतन के बदले पैसे देने का रिवाज तो देखा व सुना ही होगा लेकिन क्या आप ने कभी ऐसा सुना है कि वेतन के बदले रेप करने की आजादी दी जाती हो। सुनने में थोड़ा सा अजीब लगता है लेकिन दक्षिणी सूडान को लेकर यूएन की रिपोर्ट ने एक सनसनीखेज खुलासा किया है।

उन्हें शिपिंग कंटेनर्स में दम घोंटकर, पेड़ों पर फांसी देकर या टुकड़े-टुकड़े कर मार दिया जाता है। इतना ही नही वो पर्सनल प्रॉपर्टी भी चुराते हैं और महिलाओं और बच्चों को बंधक बनाकर पैरेंट्स के सामने उनके बच्चों का रेप किया जाता है। यूएन ह्यूमन राइट्स चीफ जाएद राद अल-हुसैन ने बताया, आतंक और हथियारों की लड़ाई के लिए रेप व गैंगरेप का इस्तेमाल हो रहा है।

Gyan Dairy

रिपोर्ट के मुताबिक वहां की सेना को वेतन भुगतान के तौर पर महिलाओं से बलात्कार करने की इजाजत दी जाती है। पिछले एक साल में यहां पर 1300 महिलाओं से रेप किया गया है।  रिपोर्ट में साउथ सूडान की दो साल की सिविल वॉर कंडीशन पर नजर डाली गई है। इसके मुताबिक, गवर्नमेंट के विरोधियों को सपोर्ट करने वाले संदिग्ध सिविलियन्स को टॉर्चर किया जाता है।

Share