blog

पीएम मोदी ने कहा-नवंबर के अंत तक मिलेगा मुफ्त आनाज, एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड की भी हो रही व्यवस्था

पीएम मोदी ने कहा-नवंबर के अंत तक मिलेगा मुफ्त आनाज, एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड की भी हो रही व्यवस्था
Spread the love

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपना संबोधन किया। इस दौरान उन्होंने कई बड़ी योजनाओं का ऐलान किया। पीएम मोदी ने कहा कि अब नवंबर के अंत तक 80 करोड़ लोगों को मुफ्त में अनाज दिया जायेगा। इसके साथ ही उन्होंने एक राष्ट्र एक राशन कार्ड की भी व्यवस्था को जल्द ही लागू करने की बात कही। अपने संबोधन की शुरूआत करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम Unlock-Two में प्रवेश कर रहे हैं और हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं जहां सर्दी-जुखाम, खांसी-बुखार के मामले बढ़ जाते हैं।

पीएम ने कहा कि अगर कोरोना से होने वाली मृत्यु दर को देखें तो दुनिया के अनेक देशों की तुलना में भारत संभली हुई स्थिति में है। समय पर किए गए लॉकडाउन और अन्य फैसलों ने भारत में लाखों लोगों का जीवन बचाया है। हालांकि, उन्होंने कहा कि Unlock-One होने के बाद लापरवाही भी बढ़ी है। ऐसे में सरकारों को, स्थानीय निकाय की संस्थाओं को, देश के नागरिकों को, फिर से उसी तरह की सतर्कता दिखाने की जरूरत है। पीएम ने कहा कि विशेषकर कन्टेनमेंट जोंस पर हमें बहुत ध्यान देना होगा, जो भी लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे, हमें उन्हें टोकना होगा, रोकना होगा और समझाना भी होगा।

पीएम ने कहा कि लॉकडाउन होते ही सरकार, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लेकर आई। बीते तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं। इस दौरान 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपए जमा हुए हैं। पीएम ने कहा कि भारत में, 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 3 महीने का राशन दिया गया। उन्होंने कहा कि जुलाई से धीरे-धीरे त्योहारों का भी माहौल बनने लगता है। त्योहारों का ये समय, जरूरतें भी बढ़ाता है, खर्चे भी बढ़ाता है।

इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक, यानि नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च होंगे। अगर इसमें पिछले तीन महीने का खर्च भी जोड़ दें तो ये करीब-करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए हो जाता है। पीएम ने कहा कि अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है यानि एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड ‘one nation one ration card’। इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गाँव छोड़कर के कहीं और जाते हैं।

 

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *