पीएम मोदी बोले- दूसरी लहर बहुत पीड़ादायक, हमने अपने परिजन खोए हैं, लड़ाई जारी है

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना संकट को लेकर देश को संबोधित कर रहे हैं। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि आज देश कोरोना से लड़ रहा है। हमने पिछले दिनों कोरोना की दूसरी लहर का पीक देखा। इस दौरान हमने बड़ी संख्या में अपनों को खोया है। पीएम मोदी ने कहा कि दूसरी लहर में तेजी से मेडिकल ऑक्सीजन की मांग बढ़ी थी, जिसकी आपूर्ति के लिए सेना तक को लगाया गया। विदेशों से भी ऑक्सीजन की सप्लाई की गई। इसके अलावा जरूरी दवाओं के उत्पादन से लेकर विदेश से लाने तक में कोई कसर नहीं छोड़ी गई। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना जैसे अदृश्य दुश्मन से लड़ाई में सबसे कारगर हथियार कोविड प्रोटोकॉल है। मास्क और दो गज की दूरी ही सबसे अच्छा उपाय है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वैक्सीन इस संक्रमण से जंग के लिए एक सुरक्षा चक्र है, लेकिन यह भी समझना होगा कि दुनिया में वैक्सीन की सप्लाई कम है। ऐसे बहुत कम देश और कंपनियां हैं, जहां दवाएं बन रही हैं। पीएम मोदी ने पोलियो और चेचक का उदाहरण देते हुए कहा कि एक समय में हमें महामारियों से निपटने के लिए टीकों का दशकों तक इंतजार करना पड़ता था। पीएम मोदी ने कहा कि यदि आज हमारे देश में वैक्सीन न बन रही होती तो समझिए क्या होता। पीएम मोदी ने कहा कि साल 2014 तक देश में सिर्फ 60 फीसदी आबादी का टीकाकरण चल रहा था। महज सात साल में हमने टीकाकरण को 90 फीसदी से ज्यादा आबादी तक पहुंचा दिया।

Gyan Dairy
Share