PM मोदी का स्पेशल प्लेन दिल्ली हवाई अड्डे पहुंचा, दुश्मन की मिसाइलों का भी नहीं होगा असर

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी के लिए अमेरिका में तैयार विशेष विमान बोइंग 777 गुरुवार दोपहर 3 बजे दिल्ली हवाई अड्डे पर उतर गया है। अमेरिका के राष्ट्रपति के एयरफोर्स वन जैसे क्षमताओं से लैस इस विमान में कई खूबियां हैं। इस विमान का इस्तेमाल प्रधानमंत्री के अलावा राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति भी करेंगे। अभी तक पीएम एयर इंडिया-वन कॉल साइन से बोइंग-747 इस्तेमाल करते रहे हैं। सरकारी सूत्रों ने बताया कि आज किसी वक्त प्लेन भारत पहुंच सकता है।

बेहतरीन खूबियों से है लैस है यह विमान

‘बख्तरबंद’ बोइंग 777 (Air India One) एक बार ईंधन भरने पर यह अमेरिका से भारत तक की लंबी उड़ान भर सकता है। इस दो नए सुपर वीआईपी प्लेन को आने वाले समय में एयर इंडिया नहीं बल्कि एयरफोर्स ऑपरेट करेगी। सूत्रों का कहना है कि इसका कॉल साइन एयरफोर्स-वन रखा जा सकता है।

कलर से लेकर सुरक्षा का पूरा ख्याल

इसमें तीन तरह के रंगों का इस्तेमाल किया गया है। इनमें से दो रंग अमेरिकी राष्ट्रपति के एयरफोर्स वन से मिलते-जुलते हैं। सूत्रों का कहना है कि बोइंग-777 में जो रंग इस्तेमाल किया गया है। इनमें सफेद, हल्का नीला और नारंगी रंग है। हल्का नीला और सफेद रंगं का इस्तेमाल अधिक किया गया है जबकि नारंगी रंग की हवाई जहाज के बीच में लाइन दी गई है। देखने में यह बहुत सुंदर लग रहा है।

900 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भरता है प्‍लेन

Gyan Dairy

अमेरिकी राष्‍ट्रपति का विमान एयरफोर्स वन 35,000 फीट की ऊंचाई पर 1,013 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकता है। एयरफोर्स वन 35,000 फीट की ऊंचाई पर 1,013 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकता है। एकबार में यह विमान 6,800 मील की दूरी तय कर सकता है। विमान अधिकतम 45,100 फीट की ऊंचाई तक उड़ान भर सकता है। इस विमान के उड़ान के दौरान प्रतिघंटा 1,81,000 डॉलर (करीब 1 करोड़ 30 लाख रुपये) की लागत आती है। वहीं पीएम मोदी का नया विमान करीब 900 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भरता है।

विमान की कीमत और ताकत भी जान लीजिए

इस विमान को एयरफोर्स के पायलट उड़ाएंगे। दोनों विमानों की कीमत करीब 8458 करोड़ रुपये है। बेहद सेफ इस जहाज के अगले हिस्से में जैमर लगा है जो दुश्मन के रेडार सिग्नल को जाम कर देता है। इस पर मिसाइल हमले का भी असर नहीं होता। खबरों के अनुसार इस विमान में हवा में ही ईंधन भरने की क्षमता होगी। साथ ही यह विमान एक बार में भारत से अमेरिका तक की दूरी के बीच उड़ान भर सकेगा।

हवा में ईंधन भरने की क्षमता

इस विमान में ऑफिस और एक मीटिंग रूम भी होगा। इसमें मिरर बॉल सिस्टम भी इस्तेमाल किया गया है। यह आधुनिक इंफ्रारेड सिग्नल से चलने वालीं मिसाइलों को भी भ्रमित कर सकता है। इस विमान की कई तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही हैं। मौजूदा समय में पीएम और राष्ट्रपति एयर इंडिया के बोइंग 747 विमान में सफर करते हैं।

Share