चौकी में हेड कांस्टेबल ने लूट ली अपनी शादीशुदा बेटी की आबरू

मानवता को शर्मसार करने वाली और रिश्तों का खून करती इससे खतरनाक दास्ता नहीं है। यमुना एक्सप्रेसवे की मांट चौकी पर एक हेड कांस्टेबल ने अपनी ही बेटी की आबरू लूट ली। हेड कांस्टेबल की शादीशुदा बेटी अपने पिता के साथ चौकी में रूकी थी। आरोपी ने रात भर उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। लोगों को बताने पर जान से मारने की धमकी। पीड़िता की शिकायत पर एसएसपी ने आरोपी हेड कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया। वह पुलिस हिरासत में है।

पीड़िता का कहना है कि रात में जब वह एक्सप्रेसवे पर मांट में टोल चौकी पर तैनात अपने पिता से मिलने गई तो पिता ने उससे रात में चौकी पर ही रूक जाने को कहा। इस पर वह अपने पिता की बैरक में रूक गई। आरोप है कि चौकी में रात भर उसका हेड कांस्टेबल पिता उससे दुष्कर्म करता रहा।जब उसने शोर मचाने की कोशिश की तो आरोपी ने पीड़िता को जान से मारने की धमकी दी।

बताया गया है कि यमुना एक्सप्रेसवे की टोल चौकी पर आरोपी एचसीपी तैनात था। सोमवार रात को उसकी बेटी चंडीगढ़ से आगरा दवा लेने आई थी। वह चंडीगढ़ में अपने पति के साथ रहती है। उसके दो संतान भी हैं।

Gyan Dairy

पीड़िता ने चौकी से भागकर अपनी जान बचाई। बाद में मौके पर पहुंचे अपने पति की मदद से उसने आरोपी को पुलिस के सुपुर्द कर दिया। एसएसपी मथुरा के आदेश के बाद दरोगा के खिलाफ थाना मांट में दुराचार मामला दर्ज किया है। एसएसपी ने आरोपी को सस्पेंड भी कर दिया है। सीओ मांट संजय कुमार सागर ने बताया की दरोगा की लड़की दवा लेने के लिए आगरा आयी थी और चौकी पर रात में रुक गई। यहां आरोपी ने उसके साथ दुराचार किया।

Share