कृषि बिल पर बोले राहुल गांधी-पहले पैर में कुल्हाड़ी मारी और अब दिल में चोट की

नई दिल्ली। कृषि बिल को लेकर किसान संगठन और विपक्ष लगातार केंद्र की मोदी सरकार पर हमलावर हैं। वह सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगा रहे हैं। इस बीच मंगलवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसानों से बातचीत की। उन्होंने इस कानून को अंग्रेजों का कानून बताया। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस शासित सभी राज्यों से केंद्र के किसान विरोधी विधान को नकारने वाले कानून पारित करने को कहा है।

किसान मजदूर संघर्ष समिति रेल रोको प्रदर्शन करेगी। पंजाब के जालंधर, अमृतसर, टांडा, मुकेरियां और फिरोजपुर में 24 सितंबर से प्रदर्शनकारी रेल की पटरियों पर बैठ हुए हैं। इसके अलावा कांग्रेस की योजना गांधी जयंती के मौके पर बड़ा प्रदर्शन करने की है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रदर्शन कर रहे किसानों से बात की।

Gyan Dairy

कानून का विरोध करते हुए राहुल ने इसे अंग्रेजों का कानून करार दिया। उन्होंने कहा कि अंग्रेजों से लड़ाई के लिए महात्मा गांधी ने कई आंदोलन किए, आज महात्मा गांधी जिंदा होते तो इस कानून का विरोध करते। कांग्रेस नेता ने कहा कि तीन कृषि किसान और नोटबंदी-जीएसटी में कोई फर्क नहीं है। पहले पैर में कुल्हाड़ी मारी और अब दिल में चोट की। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि इन्हें ये बात समझ नहीं आएगी ये लोग तो अंग्रेजों के साथ खड़े थे।

Share