राजस्थान: विधानसभा के अंदर भी घटा सचिन का कद, CM गहलोत के पीछे मिली कुर्सी

नई दिल्ली। राजस्थान कांग्रेस में बीते एक माह से जारी सियासी उलटफेर के पटाक्षेप के बाद विधानसभा का सत्र शुक्रवार की सुबह शुरू हो गया। सियासी संग्राम में पराजित योद्धा साबित हुए सचिन पायलट और उनके गुट पर अब कई तरह के प्रहार शुरू हो गए हैं। इसी के तहत मौजूदा सत्र में विधानसभा में बैठने की व्यवस्था को लेकर कुछ अहम बदलाव किए गए हैं। इसके तहत अब कांग्रेस नेता सचिन पायलट को मुख्यमंत्री (CM) गहलोत के बगल वाली सीट नहीं मिली है। पू्र्व उप-मुख्यमंत्री पायलट इसके पहले तक सीएम अशोक गहलोत के ठीक बगल वाली सीट पर बैठते थे।

अब उप-मुख्यमंत्री पद से हटाए गए सचिन पायलट की सीट सीएम अशोक गहलोत के पीछे वाली दूसरी लाइन में कर दिया गया है। सचिन पायलट को 127 नंबर की सीट अलॉट हुई है, जोकि निर्दलीय विधायक श्याम लोढ़ा के बगल की सीट है। वहीं, अब कैबिनेट मंत्री शांति धारीवाल मुख्यमंत्री गहलोत के बगल वाली सीट पर बैठेंगे।

Gyan Dairy

सचिन पायलट ही नहीं उनके दो करीबी पूर्व मंत्रियों की सीट में भी बदलाव किया गया है। मंत्री पद से हटाए गए विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को भी पीछे की लाइन में बैठना होगा। विश्वेंद्र को आखिरी लाइन की 14 नंबर की सीट दी गई है, जबकि रमेश मीणा को पांचवीं लाइन की 54वीं नंबर की सीट मिली है।

Share