रविशंकर प्रसाद ने कहा की मुस्लिम बीजेपी को वोट नहीं देते लेकिन क्‍या हमने उन्‍हें कभी परेशान किया

केंद्रीय मंत्री और भाजपा के बड़े नेता रविशंकर प्रसाद ने एक ऐसा बयान दिया है, जिससे सियासी तूफान खड़ा हो सकता है. उन्होंने कल एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मुस्लिम हमें वोट नहीं देते, लेकिन इसके बाद भी सरकार उनके साथ किसी तरह का भेदभाव नहीं करती. रविशंकर प्रसाद ने यह बयान शुक्रवार को एक मोटर वेहिकल कंपनी के कार्यक्रम में दिया. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत विविधताओं का देश है और हम इसका सम्मान करते हैं. उन्होंने कहा कि, पिछले कई दिनों से हमारे खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन इसके बाद भी जनता ने हम पर भरोसा दिखाया है.

इस दौरान रविशंकर प्रसाद ने पद्म श्री से सम्मानित अनवर उल हक का उदाहरण भी दिया. उन्होंने कहा कि जनता की भलाई के लिए काम करने वाले अनवर पश्चिम बंगाल में चाय बागान मजदूर हैं. उनके काम को देखते हुए खुद पीएम नरेंद्र मोदी ने उन्हें फ़ोन किया और कहा कि हम आपका सम्मान करना चाहते है. हमने उनसे कभी नहीं पूछा कि उनका धर्म क्या है या वो हमें वोट देते हैं या नहीं. उन्होंने कहा कि पहले बहुत गलत तरीके से सम्मान दिए जाते रहे हैं लेकिन अब हमारी सरकार ने इस चलन को बदला है.

Gyan Dairy

इस समय देश में 15 राज्यों में हमारी सरकार है, 13 राज्यों में भाजपा के मुख्यमंत्री है, लेकिन इसके बाद भी हमारी सरकार ने किसी मुस्लिम को परेशान नहीं किया. हमने किसी मुसलमान की नौकरी नहीं छीनी. आगे उन्होंने कहा कि, मुझे पता है कि हमें मुसलमानों का वोट नहीं मिलता, लेकिन क्या हमारी सरकार उन्हें उचित सुविधा नहीं दे रही?

Share