रिजर्व बैंक के गवर्नर शशिकांत दास बोले- कोरोना का संक्रमण बढ़ा लेकिन पिछले साल जैसे लॉकडाउन की आशंका नहीं

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने आज यानी गुरुवार को कहा कि हम सरकारी बैंकों के निजीकरण को लेकर सरकार से बातचीत कर रहे हैं। श्रीदास ने बताया कि आरबीआई कीमत और वित्तीय स्थिरता बनाये रखते हुए अर्थव्यवस्था के पुनरुद्धार के लिए नीतिगत उपायों के प्रयोग को लेकर प्रतिबद्ध है। आरबीआई गवर्नर ने कहा कि ”हम सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण को लेकर सरकार के साथ चर्चा कर रहे हैं। इस संदर्भ में प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा। इस दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं लेकिन पिछले साल जैसे लॉकडाउन की आशंका नहीं है।

बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक फरवरी को 2021-22 को देश का बजट पेश करते हुए सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों और एक साधारण बीमा कंपनी के निजीकरण का प्रस्ताव किया था। वित्त मंत्री ने कहा था कि आर्थिक पुनरुद्धार निर्बाध रूप से जारी रहना चाहिए। वित्त वर्ष 2021-22 के लिए आरबीआई के 10.5 प्रतिशत वृद्धि अनुमानों को घटाने की जरूरत नहीं लगती।

Gyan Dairy
Share