रूसी समाचार एजेंसी का खुलासा, गलवान में मारे गए थे चीन के 45 सैनिक

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच सीमा पर गतिरोध जारी है। इस बीच रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के एलएसी पर सेनाओं के पीछे हटाने को लेकर हुए समझौते की जानकारी दी। वहीं, इस बीच रूसी समाचार एजेंसी ने एक बड़ा खुलासा किया है। पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में पिछले साल 15 जून को खूनी झड़प हुई थी, जिसमें 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

वहीं रूसी समाचार एजेंसी तास ( TASS) ने दावा किया है कि गलवान घाटी की हिंसा में 45 चीनी सैनिक मारे गए थे। हालांकि,  चीन अभी तक आधिकारिक तौर पर अपने सैनिकों के मारे जाने की बात को स्वीकार नहीं किया है। आपको बता दें कि TASS ने ही भारतीय और चीनी सैनिकों के पैंगोंग त्सो झील के पास से सैनिकों की वापसी की बात कही थी।

दोनों देश के बीच हिए समझौते के मुताबिक सैनिक धीरे.धीरे पीछे हट रहे हैं। बाद में सैनिकों की वापसी की खबर की पुष्टि चीनी रक्षा मंत्रालय ने भी की थी। चीनी रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि कमांडर स्तर की नौवें दौर की वार्ता के दौरान दोनों देशों के बीच सैनिकों को पीछे हटाने पर सहमति बनी थी।

Gyan Dairy

 

Share