संबित पात्रा ने राहुल पर कसा तंज, बोले राहुल के राजनीतिक पुश-अप नहीं बचा पाएंगे कांग्रेस की डूबती नाव

नई दिल्ली। बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा लगातार कांग्रेस पर हमलावर रहते हैं. मंगलवार को उन्होने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि ये पार्टी गठबंधन के माध्यम से अपनी डूबती नाव को बचाना चाहती है लेकिन ये भी उतना ही सच है कि राहुल जी वहां जाकर डुबा देते हैं. पात्रा ने कहा कि आज उनकी पार्टी में ही लड़ाई हो रही है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ना केवल क्षीण हो चुकी है बल्कि नगण्य हो चुकी है. जितने भी राज्यों में कांग्रेस ने गठबंधन किए हैं, इससे सिर्फ गांधी परिवार को बचाए रखने के लिए हुआ है. ये गठबंधन किसी अच्छे प्रदर्शन या देश में सुधार के लिए नहीं, बल्कि किसी तरह गांधी परिवार की राजनीतिक प्रासंगिकता बनी रहे, इसके लिए की गई.

बीजेपी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान संबित पात्रा ने कहा, “पीएम मोदी ने इनके लिए सही शब्द का इस्तेमाल किया था कि ये गठबंधन नहीं बल्कि ‘ठगबंधन’ है. बंगाल में इसी तरह का ठगबंधन बन रहा है. बंगाल में एक मौलाना की पार्टी (इंडियन सेक्युलर पार्टी) के साथ गठबंधन भला सेक्युलर कैसे हो सकता है. उनके साथ कम्युनिस्ट पार्टी और कांग्रेस गठबंधन कर रही है.” उन्होंने कहा कि ये कांग्रेस का दोगलापन है. एक तरफ सेक्युलर का राग अलापती है दूसरे तरफ देश विरोधी और सांप्रदायिक ताकतों के साथ सांठगांठ करती है और गठबंधन करती है.

उन्होंने कहा कि यही कांग्रेस पार्टी केरल में इंडियन मुस्लिम लीग के साथ गठबंधन कर लेती है. इसकी पराकाष्ठा तब पार होती है. उन्होंने कहा, “बंगाल में कम्युनिस्ट के साथ गठबंधन करती है और केरल में कम्युनिस्ट के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं. मतलब जब राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा बंगाल जाएंगे तो कम्युनिस्ट पार्टी के लिए अच्छी-अच्छी बातें करेंगे, उनके साथ मंच शेयर करेंगे लेकिन केरल में उन्हीं के खिलाफ बोलेंगे. इनको गठबंधन से कोई मतलब नहीं है. येनकेन प्रकारेण केवल पैसा उगाहना गांधी परिवार का उद्देश्य है. भ्रष्टाचार और जातीयता फैलाना ही कांग्रेस की आइडियोलॉजी है.”

भ्रष्टाचार करना कांग्रेस की आइडियोलॉजी- संबित पात्रा

Gyan Dairy

संबित पात्रा ने कहा कि इनका सिर्फ एक ही उद्देश्य भ्रष्टाचार फैलाना है और ‘मोटा माल’ इकट्ठा करना है. उन्होंने कहा, “राहुल गांधी ने कहा था कि हां हम मुसलमानों की पार्टी हैं. हम आज ये बताना चाहते हैं कि ये उनकी भी पार्टी नहीं बल्कि सिर्फ सिर्फ गांधी परिवार की पार्टी है, राहुल गांधी की पार्टी है, प्रियंका गांधी की पार्टी है ये रॉबर्ट वाड्रा की पार्टी है. परिवारवाद को बढ़ाना देना और भ्रष्टाचार करना ही कांग्रेस पार्टी की विचारधारा है.”

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी चाहे कितने भी राजनीतिक पुश-अप कर लें, चाहें कितनी भी गठबंधन की नृत्य कर लें, ये पांचों राज्यों की जनता उनका भला नहीं करने वाली है. उन्होंने कहा, “नरेंद्र मोदी जी के विकास को ही जनता आशीर्वाद देगी. और इस ठगबंधन की हार होगी. मैं गुजरात के हर कार्यकर्ता और जनता को बधाई देता हूं कि उन्होंने देश में बंटवारे की राजनीति को नकार दिया है.”

संबित पात्रा ने कहा कि प्रशांत किशोर ने दीदी का साथ छोड़कर पंजाब का रुख कर लिया. बीच चुनाव में वो पंजाब सीएम के एडवाइजर बन गए, इससे ये साफ होता है कि जो बात अमित शाह जी कहते हैं बीजेपी 200 के पार जा रही है ये अब वो भी समझ गए हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी में सहिष्णुता नहीं है. उनकी पार्टी के लोग अगर पीएम मोदी के अच्छे कामों की तारीफ भी कर देंगे तो कांग्रेस उनके खिलाफ हो जाती है.

Share