blog

अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने हुर्रियत कान्फ्रेंस से तोड़ा नाता, यह है वजह

अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने हुर्रियत कान्फ्रेंस से तोड़ा नाता, यह है वजह
Spread the love

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने हुर्रियत कॉन्फ्रेंस से इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे की जानकारी सैयद अली शाह ने एक मैसेज के जरिए किया है। इसमें उन्होंने कहा है कि अपने फैसले की जानकारी सभी को दे दी है। गिलानी ने संगठन के सभी घटकों को विस्तृत पत्र लिखते हए हुर्रियत कॉन्फ्रेंस छोड़ने के अपने फैसले के पीछे के कारण बताए हैं।

उन्हें इस संगठन का आजीवन प्रमुख नामित किया गया था। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के सदस्यों की वर्तमान की गतिविधियों की विभिन्न आरोपों को लेकर गठबंधन जांच कर रहा है। गिलानी ने अपने दो पन्ने के पत्र में कहा है कि इन प्रतिनिधियों की गतिविधियां अब वहां (पीओके) सरकार में शामिल होने के लिए विधानसभाओं और मंत्रालयों तक पहुंच बनाने को लेकर सीमित है।

कुछ सदस्यों को बर्खास्त कर दिया गया जबकि अन्य ने अपनी खुद की बैठकों का आयोजन शुरू कर दिया। इन गतिविधियों को आपने (घटकों ने) यहां बैठक कर उनके निर्णयों को समर्थन देकर बढ़ावा दिया है। उन्होंने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा रद्द करने और पूर्व के राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के फैसले के बाद हुर्रियत सदस्यों की निष्क्रियता की ओर इशारा किया।

 

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *