सुप्रीम कोर्ट ने फ्यूचर ग्रुप और रिलायंस रिटेल के सौदे पर लगाई रोक, अमेजन की याचिका पर दिया आदेश

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने आज यानी सोमवार को राष्ट्रीय कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) को किशोर बियानी के नेतृत्व वाले फ्यूचर रिटेल लिमिटेड और मुकेश अंबानी की रिलायंस रिटेल के बीच 24,713 करोड़ के सौदे को मंजूरी देने पर रोक लगा दी है। ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन की अपील स्वीकार पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगाने का आदेश जारी किया है। इस आदेश से ये साफ हो गया है कि राष्ट्रीय कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल फ्यूचर रिटेल लिमिटेड और रिलायंस के बीच होने वाले सौदे को मंजूरी नहीं देगा।

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस एफ नरीमन और बीआर गवई की पीठ ने फ्यूचर ग्रुप की कंपनियों और सीईओ किशोर बियानी को नोटिस जारी किया है। इस मामले की अगली सुनवाई पांच सप्ताह बाद होगी। इसके साथ ही दिल्ली हाई कोर्ट की खंडपीठ मामले को आगे नहीं बढ़ाएगी। बता दें दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ ई-कॉमर्स की दिग्गज कंपनी अमेजन की एक याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई कर रहा था। अमेजन ने दिल्ली उच्च न्यायालय के एक आदेश के खिलाफ किशोर बियानी की अगुवाई वाली फ्यूचर रिटेल लिमिटेड (एफआरएल) और मुकेश धीरूभाई अंबानी के बीच 13 24,713 करोड़ के सौदे पर रोक लगाने की अपील की है।

Gyan Dairy
Share