सुप्रीम कोर्ट: वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने माफी मांगने से किया इंकार, कही ये बात

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट की अवमानना मामले में वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण झुकने को तैयार नहीं हैं। प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट से माफी मांगने से साफ इंकार कर दिया है। उन्होंने ेहा कि वह अपने विचार पर अभी भी कायम हैं। सुप्रीम कोर्ट के जजों के खिलाफ अपने विवादित ट्वीट के लिए अवमानना के दोषी ठहराए गए अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट में अपना जवाब दाखिल किया है। सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में दाखिल अपने बयान में प्रशांत भूषण ने कहा कि मेरा मानना है कि संविधान में प्रदत्त मौलिक अधिकारों के संरक्षण के लिए आशा का अंतिम स्थान सुप्रीम कोर्ट ही है। मेरे ट्वीट मेरे विश्वास का प्रतिनिधित्व करते हैं और अपने बयानों को वापस लेना निष्ठाहीन माफी होगी।

अपने जवाब में वकील प्रशांत भूषण ने कहा कि मेरा बयान सद्भावनापूर्ण था। अगर मैं इस कोर्ट के समक्ष अपने बयान वापस लेता हूं, तो मेरा मानना है कि अगर मैं एक ईमानदार माफी की पेशकश करता हूं, तो मेरी नजर में मेरी अंतरात्मा और उस संस्थान की अवमानना होगी, जिसमें मैं सर्वोच्च विश्वास रखता हूं।’ सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को प्रशांत भूषण से कहा था कि वह सुप्रीम कोर्ट की अवमानना वाले ट्वीट को लेकर माफी नहीं मांगने वाले अपने बयान पर पुनर्विचार करें।

Gyan Dairy
Share