फिर पिटे स्वामी ओम, नाथूराम गोडसे जयंती में थे मुख्य अतिथि

नई दिल्ली: हमेशा विवादों में छाए रहने वाले और खुद को संन्यासी कहने वाले स्वामी ओम शुक्रवार को एक कार्यक्रम में भीड़ के हत्थे चढ़ गए और भीड़ ने उनकी जमकर धुनाई कर दी. इतनी ही नहीं स्वामी की कार में भी तोड़फोड़ की.

दिल्ली के थाना रणहौला इलाके के विकास नगर स्थित सत्यम वाटिका में नाथूराम गोडसे जयंती का कार्यक्रम रखा गया था जिसमें बिगबॉस सीजन-10 के स्वामी ओम बाबा को बुलाया गया था. स्वागत के लिए जैसे ही बाबा को मंच पर बुलाया गया तो भीड़ में कुछ लोग भड़क गए. उनका कहना था कि गोडसे जैसी महान हस्ती के जयंती पर ऐसे पाखंडी बाबा को बुलाकर उनका अपमान किया है.

Gyan Dairy

कुछ लोगों के विरोध जताते ही चारों ओर से स्वामी के खिलाफ आवाज उठने लगी और देखते ही देखते स्वामी ओम पर भीड़ टूट पड़ी और लात घूसों की बरसात कर दी. इतना ही नही स्वामी ओम अपनी कार में सवार होकर जब वहां से जाने लगे तो लोगों ने उनकी गाड़ी को चारों तरफ से घेर लिया और उनकी गाड़ी पर हमला कर दिया. उनकी कार का शीशा भी तोड़ दिया. इस हमले में कार ड्राइवर भी घायल हो गया.

Share