कानून व्यवस्था की बात करने वाली भाजपा शासित राज्य मध्य प्रदेश में हर दिन होते हैं 11 बलात्कार

मध्य प्रदेश के सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले एक साल में हर दिन राज्य में ग्यारह और हर हफ्ते छह महिलाओं का सामुहिक बालात्कार हुआ। यह आकड़ा मध्य सरकार ने विधानसभा में पेश किया है। प्रस्तुत आंकड़ों में यह भी सामने आया है कि जिन महिलाओं का बालात्कार हुआ है उनमें से आधे से अधिक नाबालिग थीं।

मध्यप्रदेश विधानसभा में सोमवार को कांग्रेस विधायक रामनिवास रावत के एक सवाल का जवाब देते हुए गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने बताया कि एक फरवरी 2016 से लेकर अब तक 4527 महिलाओं के साथ बालात्कार हुआ। उन्होंने बताया कि एक फरवरी 2016 से 30 जून तक 1868 महिलाएं का और 108 महिलाएं सामूहिक दुष्कर्म की शिकार बनीं। उनमें से 883 बालिग और 985 नाबालिग थीं। वहीं एक जुलाई 2016 से अब तक 2411 महिलाओं के साथ दुष्कर्म और 140 के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ।

Gyan Dairy

आकड़ों के मुताबिक अनुसूचित जाति की 611, अनुसूचित जनजाति की 662, अन्य पिछड़ा वर्ग की 750 और सामान्य वर्ग की 388 महिलाएं बालात्कार की शिकार हुईं। गौरतलब है कि पिछले साल राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) ने एक रिपोर्ट दी थी। एनसीआरबी के उस रिपोर्ट बताया गया था कि देश के राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कुल 34,651 बालात्कार की घटनाएं हुई थी। उनमें सबसे ज्यादा 4391 वारदातें मध्यप्रदेश में हुई थी।

Share