इन राज्यों से दिल्ली आने वालों को दिखानी होगी कोरोना निगेटिव रिपोर्ट, जानें वजह

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का संक्रमण एक बार फिर से जोर पकड़ रहा है। इसके बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में 5 राज्यों से आने वाले लोगों को के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दी गई है। सरकार ने फैसला लिया है कि महाराष्ट्र, पंजाब, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और केरल से 26 फरवरी से 15 मार्च तक आने वाले लोगों के लिए कोरोना टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है। महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों से आने वाले लोगों के लिए 26 फरवरी से 15 मार्च तक आरटी-पीसीआर रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा। बता दें कि बीते एक सप्ताह में कोरोना के कुल मामलों में से 86 प्रतिशत केस इन्हीं राज्यों से सामने आए हैं।

वहीं, केरल और महाराष्ट्र में कोरोना के नए स्ट्रेन सामने आने सभी हड़कंप मचा है। कर्नाटक और गुजरात जैसे पड़ोसी राज्यों की ओर से पहले ही ट्रैवल बैन लागू किए जा चुके हैं। खासतौर पर महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र में कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। अमरावती, नागपुर जैसे इलाकों में तेजी से कोरोना के मामले देख जा रहे हैं। विदर्भ में कुल 11 जिले हैं, जिनमें से 5 अमरावती डिविजन के तहत आते हैं, जबकि नागपुर डिविजन में 6 जिले हैं। इसके अलावा परभणी जिला प्रशासन ने विदर्भ के 11 जिलों के लोगों के आवागमन पर रोक लगाई है। इसके अलावा साईं बाबा मंदिर को भी एहतियात के तौर पर बंद कर दिया गया है। कोरोना के एक बार फिर सिर उठाने से देश भर में प्रशासन सतर्क है।

Gyan Dairy
Share