केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव से पेपर छीनकर फाड़ने वाले टीएमसी सांसद सत्र भर के लिए निलंबित

नई दिल्ली। पेगासस जासूसी मामले में जबाव देते समय केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव के साथ तृणमूल कांग्रेस के सांसद शांतनु सेन द्वारा अभद्रता करने के मामले में राज्यसभा के सभापति ने बड़ा निर्णय है। सभापति एम वेंकैया नायडू ने आज टीएमसी सांसद शांतनु सेन को मानसून सत्र के लिए सदन से निलंबित कर दिया गया है। मोदी सरकार ने राज्यसभा में तृणमूल कांग्रेस के सांसद शांतनु सेन के खिलाफ निलंबन का प्रस्ताव पेश किया था। इसके बाद सभापति ने शांतनु सेन को पूरे मानसून सत्र के लिए निलंबित कर दिया।

सदन की कार्यवाही शुरू होते ही शुक्रवार को 11 बजे सभापति एम वेंकैया नायडू ने गुरुवार को हुई घटना को अशोभनीय बताया। सभापति ने कहा कि कल जो कुछ हुआ, निश्चित रूप से उससे सदन की गरिमा प्रभावित हुई। बता दें कि गुरुवार को सूचना प्रौद्योगिकी और संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव पेगासस जासूसी के मुद्दे पर सदन में बयान दे रहे थे। इस दौरान टीएमसी समेत विपक्षी दलों के सांसद हंगामा करते हुए आसन के समीप आ गए। इसी बीच तृणमूल कांग्रेस के सदस्य शांतनु सेन ने केंद्रीय मंत्री अश्वनी वैष्णव के हाथों से बयान की प्रति छीन ली और उसके टुकड़े कर हवा में लहरा दिया।

Gyan Dairy
Share