UA-128663252-1

उत्तर प्रदेश: पाकिस्तान की जेल में बंद हैं 11 साल पहले गायब हुए बुजुर्ग

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर से एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही हैं। यहां से 11 साल पहले रहस्यमय हालात में लापता हुए बुजुर्ग पाकिस्तान की जेल में बंद हैं। गुरुवार को गृह मंत्रालय से पत्र मिलते ही पुलिस अधीक्षक ने मामले की जांच शुरु कर दी है। विदेश मंत्रालय बुजुर्ग को वापस लाने की कोशिस में जुट गया है।

पुलिस के मुताबिक मिर्जापुर जिले के देहात कोतवाली क्षेत्र के भरुहना निवासी पुनवासी पुत्र स्व. कन्हैया लाल मजदूरी करता था। ग्यारह वर्ष पूर्व 2009 में मानसिक स्थिति खराब होने की स्थिति में वह अचानक लापता हो गए। पुनवासी किसी तरह भारत की सरहद पार कर पाकिस्तान चला गया। पाकिस्तान में सरहर पार करने के जुर्म में पुनवासी को बंदी बना लिया गया। पुनवासी को पाकिस्तान के लाहौर जेल में बंद कर दिया गया। तब से आज तक वह पाकिस्तान जेल में ही बंद है।

Gyan Dairy

घरवालों के अनुसार उसकी मानसिक हालत ठीक नहीं थी। गृह मंत्रालय ने पाकिस्तान जेल में बंद भारतीय के परिजनों की तलाश में जुटा था। मिर्जापुर निवासी के आधार पर जिला व पुलिस प्रशासन भी उसकी पहचान कराने में जुटा था। इसी दौरान पता चला कि भरूहना निवासी ही 50 वर्षीय पुनवासी विक्षिप्त अवस्था में घर से निकला था। वह किस तरह सरहद पार कर पाकिस्तान पहुंच गया। इस सदंर्भ में प्रभारी एसपी संजय वर्मा ने बताया कि पाकिस्तान जेल में बंद भारतीय व्यक्ति की मिर्जापुर जिला निवासी के रुप में हो गई है। अब गृह मंत्रालय के माध्यम से उसे पाकिस्तान से वापस लाया जाएगा।

Share