उत्तराखंड: आपदा में जान गंवाने वाले लोगों के परिवार को केंद्र और राज्य की तरफ से दी गई आर्थिक मदद

चमोली। उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर फटने के बाद बड़ी तबाही मची हुई है। इस दौरान आपदा में जान गंवाने वाले लोगों के परिवार के लोगों के लिए केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से आ​र्थिक मदद की घोषणा की गयी है। केंद्र सरकार की तरफ से मृतकों के परिवार को 2-2 लाख और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार मुआवजे का ऐलान किया है।

वहीं, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मृतकों के परिवार वालों को 4-4 लाख रुपए की सहायता राशि देने की बात कही है। वहीं, इस घटना के बाद अभी तक राहत और बचाव कार्य जारी है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि नदी के बहाव में कमी आई है जो राहत की बात है और हालात पर लगातार नजर रखी जा रही है।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि चमोली आपदा में सवा सौ के आसपास लोग लापता हो सकते हैं। राज्य के चमोली जिले के जोशीमठ में रविवार को नंदादेवी ग्लेशियर के एक हिस्से के टूट जाने से धौली गंगा नदी में विकराल बाढ़ आई और पारिस्थितिकीय रूप से नाजुक हिमालय के हिस्सों में बड़े पैमाने पर तबाही हुई।

Gyan Dairy

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के एक प्रवक्ता ने तपोवन-रेनी में एक विद्युत परियोजना प्रभारी को उद्धृत करते हुए कहा कि परियोजना में काम करने वाले 150 से अधिक मजदूरों की मौत की आशंका है। अभी तक आईटीबीपी ने 10 शव को बरामद किया है और 16 लोगों को बचाया है।

 

Share