WB: सीएम ममता बनर्जी का बड़ा बयान, कहा-दिल्ली ही नहीं कोलकाता भी होनी चाहिए राजधानी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की सरगर्मी जोरों पर है। इस बीच तृणमूल कांग्रेस की मुखिया और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा है कि देश की राजधानी सिर्फ दिल्ली ही क्यों है। ममता बनर्जी ने कहा कि देश के चारों कोनों में चार राजधानी होनी चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि संसद का सत्र सिर्फ दिल्ली में ही क्यों होता है। ममता बनर्जी ने टीएमसी सांसदों को यह मुद्दा संसद में उठाने का भी निर्देश दिया।

आज राजधानी कोलकाता में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुएसीएम ममता बनर्जी ने कहा कि एक समय कोलकाता देश की राजधानी हुआ करती थी। एक बार फिर से कोलकाता को भारत की दूसरी राजधानी बनाना चाहिए। ममता बनर्जी ने नाम लिए बिना केन्द्र की बीजेपी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि एक देश, एक नेता, एक राशन कार्ड और एक पार्टी के विचार को बदलने की जरूरत है।

ममता बनर्जी ने यह बयान उस समय दिया है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेताजी की जयंती को मनाने के लिए कोलकाता के दौरे हैं।
ममता बनर्जी ने आगे कहा कि दक्षिण भारत के राज्य जैसे. तमिलनाडु, कर्नाटक या केरल में भी एक राजधानी बननी चाहिए। अगली राजधानी उत्तर प्रदेश, पंजाब या राजस्थान में होनी चाहिए। वहीं एक बिहार ओडिशा या फिर कोलकाता में होनी चाहिए।

Gyan Dairy

ममता बनर्जी ने स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए केंद्र सरकार से 23 जनवरी को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की भी अपील की। उन्होंने कहा कि आजाद हिंद फौज के नाम पर राजरहाट क्षेत्र में एक समाधि स्थल का निर्माण किया जाएगा और नेताजी के नाम पर एक विश्वविद्यालय की स्थापना भी की जा रही है जिसका वित्तपोषण पूरी तरह से राज्य सरकार करेगी।

Share