पश्चिम बंगाल: विधानसभा सत्र के पहले दिन राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान भाजपा विधायकों ने किया वॉकआउट

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद हुई हिंसा का मामला ममता सरकार के लिए गले की फांस बनता जा रहा है। कलकत्ता हाईकोर्ट ने शुक्रवार को टीएमसी सरकार को बड़ा झटका दिया। इसके बाद शुक्रवार को ही पश्चिम बंगाल विधानसभा सत्र का आगाज हंगामे के साथ हुआ। राज्य में मुख्य विपक्षी दल भाजपा के विधायकों ने राजनीतिक हिंसा के विरोध में राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान जमकर नारेबाजी की। बीजेपी विधायक ‘जय श्रीराम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाते हुए सदन से वॉकडाउट कर गए। नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि चुनाव बाद हिंसा एक बड़ा मुद्दा है। इस लड़ाई को अंत तक ले जाया जाएगा।

इससे पहले विधानसभा के बाहर राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का आमना-सामना हुआ। दोनों ने एक दूसरे का अभिवादन किया और विधानसभा की ओर बढ़ गए। पिछले दिनों ममता बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को भ्रष्ट कहते हुए जैन हवाला केस का आरोपी बताया था, जबकि राज्यपाल ने इन आरोपों को झूठा बताते हुए मुख्यमंत्री पर पलटवार किया था।

Gyan Dairy

बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस को बहुमत मिला है। वहीं बीजेपी को 77 सीटों पर जीत हासिल हुई। पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी के केवल 3 विधायक थे। विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी को नंदीग्राम सीट पर हराने वाले शुभेंदु अधिकारी को बीजेपी ने नेता विपक्ष बनाया है।

Share