पश्चिम बंगाल: संदिग्ध परिस्थितियों में दो बीजेपी कार्यकर्ताओं के शव मिले, टीएमसी पर हत्या का आरोप

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। राज्य में विधानसभा चुनाव हुए तीन महीने बीत हैं, बावजूद इसके हिंसा जारी है। अब अलग-अलग इलाकों में विपक्षी दल बीजेपी के दो कार्यकर्ताओं के शव संदिग्ध परिस्थितियों में मिले हैं। शव मिलने के बाद बीजेपी ने टीएमसी सरकार पर हमला बोला है। बीजेपी ने आरोप लगाया है कि टीएमसी के गुंडों ने कार्यकर्ताओं की हत्या की है। थे।

जानकारी के मुताबिक बीरभूम जिले के खोइरासोल इलाके की एक इमारत में बीजेपी कार्यकर्ता इंद्रजीत सूत्रधार का शव मिला है। पुलिस का कहना है कि बीजेपी कार्यकर्ता इंद्रजीत सूत्रधार का शव एक खाली पड़ी इमारत के कमरे में छत से लटका हुआ था। बीजेपी कार्यकर्ता के दोनों हाथ पीछे से बंधे हुए थे। परिजनों ने बताया कि इंद्रजीत
सूत्रधार सोमवार की रात से ही लापता थे। उनकी कुछ स्थानीय लोगों से व्यक्तिगत रंजिश भी बताई जा रही है। बीजेपी के एक अन्य कार्यकर्ता तपन खटुआ 45 वर्ष का शव भी पूर्व मेदिनीपुर जिले के एगरा इलाके में स्थित एक तालाब से मिला है। बीजेपी और खटुआ के परिवार ने उनकी मौत के लिए टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया है

वहीं, टीएमसी का कहना है कि सूत्रधार की हत्या व्यक्तिगत रंजिश के चलते हुई है, जबकि तपन ने आत्महत्या की है। फिलहाल दोनों ही मामलों की जांच जारी है। लेकिन एक ही दिन में दो शव पाए जाने से राजनीतिक तनाव बढ़ गया है। बीजेपी और टीएमसी के बीच पहले से ही रिश्ते अच्छे नहीं हैं।

Gyan Dairy

 

Share