जाने कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर शिवसेना ने मोदी सरकार को क्या सलाह दी

मुंबई। ब्रिटेन से सारी दुनिया में फैल रहा कोरोना का नया स्ट्रेन काफी खतरनाक है, कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर शिवसेना ने केंद्र को सलाह देते हुए कहा है कि सिर्फ ब्रिटेन ही नहीं विदेश से आने वाले हर नागरिक को आइसोलेशन में भेजकर स्ट्रेन की जांच जरूरी है। पहले कोरोना संकट के समय अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा शुरू रखने की गलती हमें कितनी महंगी पड़ी थी, यह सभी के सामने है।

ब्रिटेन में मिले कोरोना के नए रूप स्ट्रेन के कारण केंद्र सरकार ने 7 जनवरी तक ब्रिटेन आने-जाने वाली हवाई यात्राओं पर रोक लगा दी है। हालांकि, रोक लगाने से पहले जो यात्री ब्रिटेन से हिंदुस्थान आए थे, उनमें से कुछ यात्रियों से इस घातक वायरस का स्‍ट्रेन पाया गया है।

केवल ब्रिटेन के यात्रियों पर रोक लगाकर घातक रूप ले रहे नए कोरोना को रोका जा सकता है?

ब्रिटेन से अन्य देशों में जाने वाले और ब्रिटेन के संपर्क से दूसरे देशों से होकर भारत में आने वाले यात्रियों को ये संक्रमण नहीं होगा क्या? इसलिए केवल ब्रिटेन से आए यात्रियों की जांच करके काम नहीं चलेगा, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय यात्रा करके आए हर देशी-विदेशी नागरिक को आइसोलेशन में भेजकर कोरोना के नए स्ट्रेन संबंधित सभी जांच आवश्यक है।

Gyan Dairy

साल भर पहले जब कोरोना का उदय हुआ, उस समय कई दिनों तक अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा शुरू रखने की गलती हमें कितनी महंगी पड़ी ये सामने आ चुका है। पिछला साल कोरोना के चीनी वायरस ने पहले ही बेकार कर दिया। अब कोरोना का ये नया ‘ब्रिटेन रिटर्न’ महासंकट मुंह बाए खड़ा है। कोरोना के दूसरे अवतार पर अंकुश लगाना ही होगा।

 

Share