UA-128663252-1

भारतीय रिज़र्व बैंक और उससे जुड़ी छह दिलचस्प जानकारियां…

भारतीय रिज़र्व बैंक, यानी रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया या आरबीआई का नाम दो ही मौकों पर पढ़ा जाता है  एक मौका होता है, जब वह मौद्रिक नीति की समीक्षा या प्रमुख ब्याज दरों रेपो रेट, रिवर्स रेपो रेट आदि में बदलाव से जुड़ी ख़बरें अख़बारों में पढ़ता है, और दूसरा मौका उसे लगभग रोज़ मिलता है, जब भी वह जेब में हाथ डालकर कोई करेंसी नोट निकालता है

 

Gyan Dairy

अहम जानकारियां

  • इस समय देश में दो रुपये, पांच रुपये, 10 रुपये, 20 रुपये, 50 रुपये, 100 रुपये के नोट प्रचलित हैं, जबकि 500 और 1,000 रुपये के नोट मंगलवार अर्द्धरात्रि से बेकार हो गए हैं, और उनके स्थान पर 500 तथा 2,000 रुपये के नोट चलेंगे.
  • देशभर की बैंकिंग प्रणाली का नियमन करने वाले आरबीआई के हाथ में ही देश की कागज़ी मुद्रा, यानी नोटों को छापने का अधिकार है, और मंगलवार को आरबीआई की चर्चा इसलिए ज़ोरशोर से हो रही है, क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1,000 हज़ार रुपये के नोटों को बंद करने की घोषणा करते हुए बताया कि 500 रुपये के नए नोट लाए जाएंगे, और उनके अलावा 2,000 रुपये का नोट भी देश के इतिहास में पहली बार शुरू किया जाएगा. इनके अलावा देश में भारतीय मुद्रा के सभी सिक्के, और एक रुपये का नोट भारत सरकार ढालती या छापती है.
  • निजी संस्था के रूप में 1 अप्रैल, 1935 को गठित किए गए आरबीआई का राष्‍ट्रीयकरण वर्ष 1949 में हो पाया था, और अंग्रेज़ों के शासनकाल में हिल्‍टन यंग आयोग की रिपोर्ट के आधार पर गठित हुई इस संस्था का लोगो भी ईस्ट इंडिया कंपनी की डबल मोहर से प्रेरित था, जिसमें कुछ बदलाव कर मौजूदा रूप दिया गया था.
  • रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया का मुख्यालय मुंबई में है, जिसकी इमारत में मौद्रिक संग्रहालय भी बनाया गया है. वैसे, देशभर में आरबीआई के 29 कार्यालय हैं, जिनमें से अधिकतर राज्‍यों की राजधानियों में स्थापित किए गए हैं.
  • गौरतलब है कि इस बैंक में द्वितीय श्रेणी का कोई कर्मचारी नहीं है, जबकि प्रथम, तृतीय तथा चतुर्थ श्रेणी कर्मियों की कुल संख्या लगभग 17,000 है. देश में हर साल बजट आमतौर पर फरवरी माह के आखिरी दिन पेश किया जाता है, जो 1 अप्रैल से शुरू होने वाले नए वित्तवर्ष से लागू किया जाता है. लेकिन एक दिलचस्प तथ्य यह है कि आरबीआई का वित्तवर्ष बाकी देश से इतर 1 जुलाई से शुरू होकर 30 जून तक चलता है.
Share