WHO 4-6 हफ्ते में कोवैैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल को देगा मंजूरी, वैज्ञानिक ने कही ये बात

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के डेल्टा वैरियंट के खतरे को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल के लिए के लिए 4-6 सप्ताह की समयसीमा बताई है। डब्ल्यूएचओ की वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने बताया कि कोवैक्सीन के इस्तेमाल के लिए मंजूरी आगामी 4-6 हफ्तों में दे दी जाएगी।

सौम्या स्वामीनाथन ने एक वेबीनार में कहा कि भारत बायोटक अब पोर्टल पर वैक्सीन का पूरा डाटा अपलोड कर रहा है। इसके आधार पर विश्व स्वास्थ्य संगठन कोवैक्सीन की समीक्षा कर रहा है। इस प्रक्रिया के तहत बगैर लाइसेंस के उत्पादों के इस्तेमाल की आपातकालीन मंजूरी दी जाती है। सौम्या स्वामीनाथन ने बताया कि EUL के लिए एक प्रक्रिया से गुजरना होता है और वैक्सीन की मंजूरी प्राप्त करने के लिए कंपनी को तीन चरणों के ट्रायल का डाटा पेश करना होता है जिसकी जांच विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञ करते हैं। इसके बाद मंजूरी दी जाती है।

Gyan Dairy
Share