पत्नी भाग गई प्रेमी के साथ, जज ने पति को दी सांत्वना कहा- ‘दूसरी तलाशिये’

पटना। बिहार के पटना हाईकोर्ट में उस समय हैरान करने वाली स्थिति बन गई जब एक पत्नी के भाग जाने के मामले की सुनवाई के दौरान जज ने अभियुक्त को जमानत देते हुए मुकदमा दर्ज कराने वाले हताश पति को दिलासा देते हुए कहा कि पराए के साथ भाग गई पत्नी को अब भूल जाइए। आपके पास मौका है दूसरी लड़की को तलाशिए वह अब आपकी पत्नी कहां रह गई।

पटना हाईकोर्ट के न्यायाधीश पीके झा ने यह टिप्पणी उस वक्त की जब बचाव पक्ष के वरीय अधिवक्ता वाईसी वर्मा ने दुखी पति द्वारा सीतामढ़ी के बथनाहा थाने में दायर प्राथमिकी को पढ़ते हुए बताया कि 25 वर्षीय नागेंद्र कुमार जायसवाल ने 30 नवंबर 17 को तान्या उर्फ मधु से शादी की थी। शादी के बाद तान्या अपने पति के साथ ससुराल नानपुर चली गई। कुछ दिनों तक ससुराल में रहने के बाद पत्नी ने पति से आगे की पढ़ाई जारी रखने की इच्छा जाहिर की। पति नागेंद्र ने पत्नी की इच्छा पर चोट पहुंचाये बिना दरभंगा के कालिदास सूर्य देव महाविद्यालय त्रिमोहन कॉलेज में दाखिला करा दिया। शादी से पहले तान्या पटना के गर्ल्स हॉस्टल में रहकर कॉम्‍पीटिशन की तैयारी करती रही थी।

अधिवक्ता वाईसी वर्मा ने कहा कि लॉकडाउन के बाद 22 अप्रैल से पत्नी अपने मायके बथनाहा चली आई और अपने चाचा के घर रहने लगी। इसके बाद 23 मई को रात्रि में वह अचानक चाचा के घर से गायब हो गई। उसके मोबाइल पर संपर्क करना चाहा किंतु वो स्विच ऑफ मिला। बाद में पता चला कि वह जब पटना में पढ़ती थी तो उसके मोबाइल पर एक अनजान व्यक्ति से हमेशा बातचीत होती रहती थी। उस मोबाइल नंबर के सिम के ग्राहक का जब नाम पता की जानकारी ली तो पता चला उसका नाम राजेश कुमार है। पति ने दावा किया कि उसकी पत्नी को वहीं राजेश कुमार ले भागा है।

Gyan Dairy

न्यायाधीश ने प्राथमिकी सुनने के बाद वरीय अधिवक्ता से मजाकिया लहजे में कहा वकील साहब विवाहित लोग आपसे भी सुरक्षित नहीं हैं। दूसरे की पत्नी को देखने और भगाने का आरोप आप पर भी लग चुका है। जवाब में वरीय अधिवक्ता ने कहा हुजूर सच तो यह है कि दूसरे की पत्नी को देखना किसी को खराब नहीं लगता है। कोई आमने-सामने से और कोई चोरी से दूसरे की पत्नी को देखते हैं।

Share