जिस सपने को पूरा करने के लिए मोदी पूरी दुनिया घूमे, अब योगी ने पकड़ी वही राह

योगी आदित्यनाथ सरकार को एक महीना पूरा हो गया है. योगी ने सरकार बनते ही एक के बाद एक फैसले लिए जिनमें से कुछ सख्त फैसले भी थे. फिर चाहे वह बूचड़खानों पर कार्रवाई हो या फिर एंटी रोमियो स्क्वॉड. वे लगातार तेजी से फैसले ले रहे हैं. हालांकि उनके कई फैसलों का नतीजा क्या होगा, ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा. वैसे- योगी आदित्यनाथ स्वच्छता, योग से लेकर बिजली तक पीएम मोदी के नक्शेकदम पर चलते दिख रहे हैं. अब योगी मेक इन इंडिया की तर्ज पर मेक इन यूपी कार्यक्रम की शुरुआत कर रहे हैं. इसे लेकर उन्होंने ट्वीट भी किया है. दरअसल, मेक इन इंडिया के लिए पीएम मोदी जहां भी गए, हर विदेशी नेता से उन्होंने मेक इन इंडिया की बात की.

वह भी पीएम मोदी की तरह ही योग की वकालत करते दिख रहे हैं. सीएम बनने के बाद वह एक योग कार्यक्रम में भी शामिल हुए. उन्होंने नमाज़ और सूर्य नमस्कार को मिलता-जुलता स्वरूप बताया था. साथ ही कहा कि राजनीति दोनों को एक नहीं होने देती. लखनऊ में चल रहे योग महोत्सव के दौरान योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सूर्य नमस्कार में जितने आसन और मुद्राएं आती है वही मुस्लिम बंधुओं के नमाज़ पढ़ने की क्रिया से मिलती-जुलती हैं. पीएम मोदी के स्वच्छ भारत अभियान का भी योगी बखूबी पालन करते दिख रहे हैं. उन्होंने सभी सरकारी विभागों को साफ-सफाई के निर्देश दिए हैं. यहां तक कि ऑफिस में गुटखा-पान खाने पर भी बैन लगा दिया है.

इससे पहले हर मौके पर योगी आदित्यनाथ पीएम मोदी की नीतियों की तारीफ करते रहे हैं. उन्होंने कई जगह सबका साथ सबका विकास की नीति की बात की है. उन्होंने सीएम बनने के बाद एक कार्यक्रम में यह भी कहा कि कोई आजकल संत को भीख भी नहीं देता, पीएम मोदी ने उन्हें पूरा प्रदेश दे दिया. वह उनका भरोसा नहीं टूटने नहीं देंगे.

Gyan Dairy

 

Share