राहुल और अखिलेश ने साझा रैली करने की योजना बनाई तो मोदी अकेले एक दर्जन रैली कर जवाब देंगे

लखनऊः यूपी विधानसभा चुनाव में लगभग सभी दलों ने अधिकांश उम्मीदवार मैदान में उतार दिए हैं। अब राजनीतिक रैलियों का समय है माहौल को गरमाने का। सपा के साथ कांग्रेस का गठबंधन होने से राहुल गांधी और अखिलेश यादव संयुक्त रैली करेंगे। दोनों युवा नेताओं की जोड़ी का मुकाबला भाजपा से अकेले पीएम मोदी करेंगे। सपा-कांग्रेस ने यूपी के लिए नया नारा दिया है-यूपी के लड़के बनाम बाहरी मोदी।

अखिलेश यादव और राहुल गांधी कुल 14 स्थानों पर संयुक्त रूप से चुनावी रैली करेंगे। दोनों युवा नेताओं की इन 14 संयुक्त रैलियों के जरिए गठबंधन को चुनाव जीतने की आस है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक प्रत्येक चरण में राहुल गांधी व अखिलेश की दो-दो संयुक्त रैलियां होंगी। वहीं भाजपा का सारा दारोमदार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों पर है। यूपी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की 12 रैलियां होंगी। इसका ब्लूप्रिंट भाजपा ने तैयार कर लिया है। मोदी का यूपी चुनावी दौरा 4 फरवरी से शुरू होगा। पहले दो चरण के लिए 4 रैलियां होंगी। पीएम मोदी 4, 7, 10 और 12 फरवरी को रैलियां करेंगे।

Gyan Dairy
Share