blog

मध्यप्रदेश सियासत: शिवराज चौहान बोले- कांग्रेस की अंदरूनी कलह ने गिराई कमलनाथ सरकार

मध्यप्रदेश सियासत: शिवराज चौहान बोले- कांग्रेस की अंदरूनी कलह ने गिराई कमलनाथ सरकार
Spread the love

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश में भाजपा का ऑपरेशन कमल आज पूरी तरह से सफल हो गया। आज होने वाले फ्लोर टेस्ट से ठीक पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। मध्य प्रदेश में सियासी संकट के बीच सीएम कमलनाथ ने अपना इस्तीफा देने का फैसला किया। राज्यपाल लालजी टंडन को सौंप पत्र में कमलनाथ ने लिखा कि पिछले दो सप्ताह में मध्य प्रदेश में जो कुछ हुआ है, वह लोकतांत्रिक सिद्धांतों के कमजोर पड़ने का एक नया अध्याय है।

उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि प्रदेश की जनता ने मुझे पांच साल सरकार चलाने का बहुमत दिया था। लेकिन भाजपा ने प्रदेश की जनता के साथ धोखा दिया। लेकिन जनता उन्हें माफ नहीं करेगी। कांग्रेस सरकार को बागी विधायकों ने आखिरकार गिरा दिया। इस प्रकार अब विधानसभा में फ्लोर टेस्ट की जरूरत नहीं रह गई है। इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि अगर सरकार के अंदरूनी झगड़े की वजह से सरकार को नुकसान होता है तो हम कुछ नहीं कर सकते। आप देख सकते हैं कि हम सरकार को बनाने या गिराने के खेल में नहीं थे। कांग्रेस को खुद मंथन करना चाहिए कि इस तरह की स्थिति कैसे बनी।

बताया जा रहा है कि भाजपा आज शाम को राज्यपाल लालजी टंडन से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। सभी विधायकों को भोपाल बुलाया गया है। इसमें शिवराज सिंह को विधायक दल का नेता चुना जा सकता है। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को सुनवाई के दौरान शुक्रवार को शाम पांच बजे तक विधानसभा में शक्ति परीक्षण का आदेश दिया था। 22 बागी विधायकों का इस्तीफा स्वीकार होने के बाद कमलनाथ सरकार के बचे रहने की उम्मीदें पहले ही खत्म हो गई थी।

You might also like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *