नीतीश कुमार कांग्रेस से नाराज, कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ी

कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। रीता बहुगुणा जोशी के गुरुवार को बीजेपी में शामिल होने के बाद अब बिहार में कांग्रेस की सहयोगी जेडीयू कांग्रेस से नाराज हो गई है। दरअसल राजगीर में जेडीयू की कार्यकारिणी की बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पीएम मटीरियल बताने के तुरंत बाद कांग्रेस ने जेडीयू की पीएम पद पर दावेदारी खारिज कर दी।

जेडीयू के कमान संभालने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को बीजेपी के खिलाफ सभी विपक्षी दलों को एकजुट होने की अपील की, लेकिन इसे लेकर कांग्रेस और वामपंथी दलों ने कोई खास उत्साह नहीं दिखाया है। नीतीश के इस बयान को 2019 के लोकसभा चुनाव की अभी से तैयारी के तौर पर देखा जा रहा है।

nitish-kumar-ep-l

Gyan Dairy

बीजेपी के खिलाफ एकजुट होने की कोशिश में नीतीश का ये कहना कि अलग-अलग रहेंगे तो ये सभी का बुरा हाल कर देंगे इसलिए सबको मिलना ही पड़ेगा। इस अपील ने एक नई राजनीतिक बहस को जन्म दे दिया है। बिहार चुनाव में महागबंधन का प्रयोग सफल रहा और बीजेपी को करारी हार का सामना करना पड़ा।
जाहिर है बिहार की कामयाबी ने नीतीश को पूरे देश में बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन का आईडिया दिया है। लेकिन सवाल है कि कांग्रेस जैसी पार्टी जिसकी अपनी राजनीतिक महत्वकांक्षा है, क्या वो देशभर में ऐसे किसी महागठबंधन के झंडे तले आएगी। तभी तो कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी कहते है फिलहाल ये सुझाव अच्छा है, लेकिन 2019 में क्या होगा और किसकी अगुवाई में इसको लेकर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता।हालांकि कांग्रेस ने नीतीश की उस राय का समर्थन किया, जिसमें उन्होंने देश को संघ मुक्त बनाए जाने की बात कही थी। कांग्रेस को भी नीतीश की तरह ही लगता है कि आरएसएस लोकतंत्र और देश की एकता के लिए खतरा है। लेकिन कांग्रेस ने कहा कि 2019 के चुनाव में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर गठबंधन से पहले पार्टियों का राष्ट्रीय अस्तित्व भी होना चाहिए।जाहिर है कांग्रेस क्षेत्रीय पार्टियों से राज्यों में बेशक तालमेल करे लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर अपने वजूद को लेकर समझौता करने के मूड में नहीं है। उसे लगता है जिस तरह देश में बीजेपी से लोगों का मोह भंग हो रहा है, उससे लोगों को यही लगेगा कि कांग्रेस ही बीजेपी का विकल्प हो सकती है और सब उसकी अगुवाई में ही बीजेपी से मुकाबला करें।

Share