सचिन तेंदुलकर से मिलने पत्रकार बन उनके घर में घुस गई थीं अंजलि, मजेदार है लव स्टोरी

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने अपने जीवन में वो सब कुछ हासिल किया जिसके बारे में कोई कल्पना ही कर सकता है। करियर से अलग उनका निजी जीवन भी शानदार रहा है। उन्हें जीवनसाथी के तौर पर अंजलि मिली हैं। दोनों की उम्र में 6 साल का अंतर है। अंजलि और उनसे 6 साल छोटे सचिन, दोनों की लव स्टोरी किसी फिल्मी कहानी की तरह ही मजेदार है।

साल 1990 में मुंबई एयरपोर्ट पर पहली बार अंजलि और सचिन की नजरें एक दूसरे से टकराई थीं। अंजलि तब अपनी मां को रिसीव करने एय़रपोर्ट पहुंची थीं और सचिन इंग्लैंड से अपने करियर का पहला शतक लगाकर लौटे थे।

अंजलि को जैसे पता चला कि वह सचिन तेंदुलसकर हैं वह उनके पीछे ऑटोग्राफ के लिए दौड़ पड़ीं। सचिन के पीछे भागने के चक्कर में वह अपनी मां को रिसीव करना भूल गईं। सचिन अपने भाइयों के साथ थे इसलिए लड़की को अपने पीछे भागता देख शरमा कर वहां से निकल गए।

एयरपोर्ट से लौटने के बाद किसी तरह से अंजलि ने सचिन का फोन नंबर निकाला और उन्हें कॉल लगा दिया। अंजलि ने सचिन को बताया- मैंने एयरपोर्ट पर आपको देखा था। सचिन का जवाब था- ‘हां, मैंने भी आपको देखा था, आप मेरे पीछे भाग रही थीं।’ यहां से दोनों के बीच बातों का सिलसिला आगे बढ़ा।

Gyan Dairy

बातें ज्यादा हुईं तो मुलाकातों का सिलसिला भी निकल पड़ा। एक इंटरव्यू में अंजलि ने खुद बताया था कि वह सचिन से मिलने की दीवानगी में उनके घर पत्रकार बनकर पहुंच गई थीं। ये दोनों की पहली मुलाकात थी।

हालांकि अंजलि की चोरी पकड़ी गई। सचिन की मां ने उनसे पूछ लिया था कि क्या तुम सही में पत्रकार हो? दरअसल जब अंजलि सचिन को चुपके से चॉकलेट दे रही थीं तो उन्होंने देख लिया था। यहां से जो दोनों के मिलने का सिलसिला शुरू हुआ वह लंबे समय तक चला।

आखिरकार साल 1994 में दोनों ने शादी का प्लान किया। सचिन शर्मीले स्वभाव के थे तो उन्होंने अंजलि से ही कहा कि वह मेरे घर पर बात कर लें। बकौल सचिन- अंजलि से शादी के बारे में परिवार से पूछना दुनिया के तेज गेंदबाजों का सामना करने से भी ज्यादा कठिन था।

Share