AUS vs IND: ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम की सदी की सबसे धीमी शुरुआत, इतने गेंदों में खोला खाता

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज के पहले टेस्ट मैच में शुक्रवार को दूसरे दिन मेजबान टीम बल्लेबाजी को उतरी। उसने अपना खाता खोलने में 28 गेंद खेलीं जिससे उसके नाम धीमी शुरुआत का एक रेकॉर्ड दर्ज हो गया।

भारत की पहली पारी दूसरे दिन 244 रन पर सिमटी। कैप्टन विराट कोहली ने सर्वाधिक 74 रन बनाए, जो पहले दिन रन आउट हो गए थे। दूसरे दिन में 4.1 ओवर खेलने के बाद ही भारतीय टीम ऑलआउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया के पेसर मिशेल स्टार्क ने 53 रन देकर 4 विकेट झटके जबकि पैट कमिंस ने 48 रन देकर 3 विकेट अपने नाम किए। जोश हेजलवुड और नाथन लॉयन को 1-1 विकेट मिला।

ऑस्ट्रेलिया के लिए मैथ्यू वेड और जो बर्न्स ओपनिंग को उतरे और दोनों ने 4.3 ओवर तक कोई रन नहीं बनाया। फिर वेड ने उमेश यादव के पारी के 5वें ओवर की चौथी गेंद पर कवर्स की दिशा में चौका लगाया और टीम और अपना खाता खोला।

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट इतिहास की यह सदी की सबसे धीमी शुरुआत है, जब उसने खाता खोलने के लिए 28 गेंद खेलीं। मेजबान टीम को पहले रन के लिए काफी देर तक इंतजार करना पड़ा।

Gyan Dairy

इससे पहले दिन के खेल की शुरुआत रविचंद्रन अश्विन और साहा ने की लेकिन दोनों ही अपने निजी स्कोर में इजाफा नहीं कर सके। अश्विन दूसरे दिन की तीसरी ही गेंद (89.3 ओवर) पर कमिंस का शिकार हो गए। उन्हें टिम पेन ने लपका। अश्विन ने 20 गेंद खेलीं और 1 चौका लगाया। फिर विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा ने भी उम्मीद तोड़ी और वह मिशेल स्टार्क की गेंद पर टिम पेन के हाथों लपके गए। साहा ने 26 गेंद खेलीं और 1 चौके की मदद से 9 रन बनाए।

उमेश यादव (6) टीम के 240 के स्कोर पर 93वें ओवर की दूसरी गेंद पर स्टार्क का शिकार बने जिन्हें मैथ्यू वेड ने लपका। इसके अगले ही ओवर की पहली गेंद पर मोहम्मद शमी को (0) को कमिंस की गेंद पर ट्रैविड हेड ने कैच कर लिया और भारतीय पारी समाप्त हो गई।

Share