Ind vs Eng: भारत की पिचों से परेशान हो गया इंग्लैंड का ये खिलाड़ी, जाने क्या कहा

भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही 4 टेस्ट मैचों की श्रंखला में टीम इंडिया दो मैच जीत चुकी है. भारत के खिलाफ चेन्नई और अहमदाबाद में लगातार दो टेस्ट मैचों में इंग्लैंड के सभी खिलाड़ियों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ा. भारतीय स्पिनर अक्षर पटेल और रविचंद्रन अश्विन की जबरदस्त टर्न लेती और कई बार चौंकाते हुए सीधी आती गेंदों पर इंग्लैंड के बल्लेबाज चकमा खाते रहे. लेकिन इन दोनों टेस्ट में किसी एक खिलाड़ी को अगर सबसे ज्यादा चुनौती का सामना करना पड़ा, तो वो रहे इंग्लैंड के विकेटकीपर बेन फोक्स. फोक्स को न सिर्फ बल्लेबाजी के वक्त स्पिन के सामने अतिरिक्त सतर्कता बरतनी पड़ी, बल्कि विकेटकीपिंग के वक्त अपने स्पिनरों की चुनौतियों से भी जूझना पड़ा. अब फोक्स ने कहा है कि चेन्नई और अहमदाबाद की पिच पर खेले गये पिछले दो टेस्ट मैच उनके अंतरराष्ट्रीय करियर के सबसे मुश्किल मुकाबले रहे.

भारत ने पिछले दोनों टेस्ट मैच आसानी से अपने नाम किए. चेन्नई में हुए दूसरे टेस्ट मैच में भारत ने इंग्लैंड को 317 रनों से हराया था. इसके बाद अहमदाबाद में हुए डे-नाइट मुकाबले को दो दिन में ही 10 विकेट से जीत लिया. फोक्स ने चेन्नई के दूसरे टेस्ट से इंग्लैंड की टीम में वापसी की और दोनों मुकाबलों में अपनी बेहतरीन विकेटकीपिंग से सबको प्रभावित किया.

फोक्स को इंग्लैंड के नियमित विकेटकीपर जॉस बटलर की जगह टीम में शामिल किया गया है, जो इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड की रोटेशन नीति के कारण पहले टेस्ट के बाद देश वापस लौट गए थे. रविवार को फोक्स ने अहमदाबाद में मीडिया से बात करते हुए कहा, “मैंने जितनी विकेटकीपिंग की है, पिछले दो मैच मेरे लिए सबसे मुश्किल रहे हैं. पिछले मैच में गुलाबी गेंद स्किड हो रही थी. मैंने पहले ऐसी पिच नहीं देखी है और इस पर कीपिंग करना काफी चुनौतीपूर्ण था.”

Gyan Dairy

28 साल के विकेटकीपर फोक्स ने कहा कि ये पिच टेस्ट मैच के पांचवे दिन जैसा बर्ताव कर रही थी और उन्होंने पहले कभी गेंद को इतना टर्न मिलते हुए नहीं देखा. फोक्स ने कहा, “मैंने अभी जिन दो पिचों पर खेला है, इससे पहले गेंद को इतना टर्न लेते हुए कभी नहीं देखा है. यह निश्चित रूप से बहुत चुनौतीपूर्ण है. यह पहले ही दिन पिच का बर्ताव पांचवें दिन के जैसा है.”

इन दोनों पिचों पर इंग्लैंड के बल्लेबाज बुरी तरह से नाकाम रहे और टीम को हार का सामना करना पड़ा. ऐसे में फोक्स ने माना कि टीम को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा. उन्होंने कहा, “जो चल रहा है उसे समझ कर हम बेहतर तरीके से उससे बाहर निकलेंगे. हमें जुझारूपन दिखाकर रन बनाने होंगे. हमें अपनी खेल योजना को समझना होगा, जो सबके लिए अलग होगी. अगर आप आउट भी होते है तो कुछ कोशिश करते हुए आउट होना है.”

Share