लॉकडाउन: जर्मनी में फंसे ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद 3 माह बाद भारत लौटे

नई दिल्ली। भारत के ग्रैंडमास्टर और 5 बार के वर्ल्ड शतरंज चैम्पियन विश्वनाथन आनंद आज शनिवार को जर्मनी से लौट आए हैं। वे कोरोनावायरस और लॉकडाउन के बाद लगे वीजा प्रतिबंध के कारण वहीं फंस गए थे। भारत लौटने की जानकारी विश्वनाथन आनंद की पत्नी अरुणा ने दी है। आनंद बुंदेसलीगा चेस टूर्नामेंट खेलने के लिए फरवरी में जर्मनी गए थे। यह टूर्नामेंट कोरोना महामारी के कारण रद्द कर दिया गया था। इसके बाद आनंद को 16 मार्च को ही लौटना था।

अरुणा ने बताया कि आनंद आज (शनिवार) बेंगलुरु पहुंचेंगे। उनकी फ्लाइट दोपहर को लैंड करेगी। इसके बाद हम सरकार द्वारा जारी सभी गाइडलाइंस का पालन करेंगे। नियम के मुताबिक, वे (आनंद) 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन में रहेंगे। वे एयर इंडिया की फ्लाइट से लौट रहे हैं। जर्मनी में फंसने के बाद आनंद ने मार्च में कहा था कि यह मेरे लिए बहुत खराब अनुभव है। जीवन में पहली बार खुद को आइसोलेट करने के लिए मजबूर हो रहा हूं। मैं हर रोज सुबह उठकर बेटे अखिल और पत्नी अरुणा से वीडियो कॉल पर बात करता हूं। हम एक-दूसरे से बात करके खुश रहने की कोशिश करते हैं।’

Gyan Dairy

जर्मनी से ही आनंद ने 5 मई को ऑनलाइन चेस नेशंस कप में भाग लिया था। टूर्नामेंट में वे भारत की ओर से खेले थे। अंतरराष्ट्रीय शतरंज महासंघ (फिडे) और चेस.कॉम द्वारा शुरु किए गए ऑनलाइन नेशंस कप में भारत, रूस, अमेरिका, चीन समेत 6 टीमें शामिल हुई थीं। चीन ने यह खिताब जीता था।

Share