राहुल द्रविड़ : मानद डॉक्टरेट की उपाधि लेने से किया इनकार और कहा मै खुद की बदौलत हासिल करूंगा

पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान राहुल द्रविड़ ने बैंगलोर विश्वविद्यालय की मानद डॉक्टरेट की उपाधि लेने से इनकार करते हुए कहा है कि वह खेल के क्षेत्र में अनुसंधान करके खुद यह डिग्री हासिल करेंगे. द्रविड़ बेंगलुरु में ही पले बढ़े और यहीं अपनी शिक्षा पूरी की. यूनिवर्सिटी ने 27 जनवरी को अपने 52वें दीक्षांत समारोह में द्रविड़ को मानद डॉक्टरेट डिग्री देने की पेशकश की थी.

गौरतलब है कि द्रविड़ ने 2014 में गुलबर्गा विश्वविद्यालय के 32वें दीक्षांत समारोह में भाग नहीं लिया था. उन्हें तब मानद डॉक्टरेट की उपाधि के लिए 12 लोगों में चुना गया था.

विश्वविद्यालय के कुलपति बी थिमे गौड़ा ने एक बयान में कहा, राहुल द्रविड़ ने मानद उपाधि के लिए उन्हें चुने जाने पर बेंगलौर विश्वविद्यालय का शुक्रिया अदा करने के साथ यह संदेश दिया है कि वह मानद उपाधि लेने के बजाय खेल के क्षेत्र में अनुसंधान करने में किसी तरह का शिक्षण कार्य पूरा करके डॉक्टरेट की डिग्री हासिल करेंगे.

Gyan Dairy

राहुल द्रविड़ ने 2012 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की थी. फिलहाल वह इंडिया ‘ए’ और अंडर-19 टीम के कोच के रूप में युवा क्रिकेटरों की प्रतिभा को निखारने में जुटे हुए हैं.

 

Share