शोएब अख्तर का बड़ा दावा, आर्थिक संकट की वजह से PSL की टीमों को बेचना चाहते हैं मालिक

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा है कि पीएसएल आर्थिक संकट से जूझ रहा है और कुछ टीमों के मालिक अपनी टीम को बेचने का फैसला ले रहे हैं. एक टीवी शो पर अख्तर ने कहा कि, अगले 16 से 18 महीनों तक पीएसएल होने की कोई संभावना नहीं है. मुझे पता है कि कुछ लोग ऐसा सुनना नहीं चाहते हैं लेकिन कुछ मालिक अपनी फ्रैंचाइजी बेचने की योजना बना रहे हैं. अख्तर ने आगे कहा कि वो पीएसएल को जिंदा रखने के लिए आर्थिक मदद करने के लिए तैयार हैं.

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इस साल के एडिशन को कोरोना के चलते रद्द कर दिया. ये टूर्नामेंट अपने आखिरी पड़ाव पर था. बोर्ड ने इस दौरान कराची और लाहौर के खाली स्टेडियम्स में मैच के आयोजन करने का फैसला किया था लेकिन ऐसा मुमकिन नहीं हो पाया.

अख्तर ने कहा कि, अगर हम मैथ करें तो पीएसएल 16 से 18 महीने के पहले नहीं हो सकता. 8 महीने बाद वर्ल्ड कप भी होने वाला है क्योंकि कोरोना को अभी भी समय लगेगा. ऐसे में अगर सितंबर तक कुछ क्रिकेट नहीं हुआ तो पीएसएल 4 महीनों के भीतर कैसे हो सकता है. मुझे नहीं लगता कि बोर्ड फ्रैंचाइजी से पैसा मांगेगा. जहां तक मुझे पता है कि प्रैंचाइजी पहले ही अपने ब्रैंड को बेचने की तैयारी कर रहे हैं.

Gyan Dairy

तेज गेंदबाज ने ये भी कहा कि वो किसी भी हालत में इस टूर्नामेंट को मरने नहीं देंगे और आर्थिक मदद देकर टी20 टूर्नामेंट को फिर से जीवित करेंगे. अख्तर ने इस बात को भी न कहा कि बीसीसीआई ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप को रद्द करवाने की कोशिश कर रही है. और अपने लिए इस साल के अंत में आईपीएल को लेकर विंडो बना रही है.

Share