तीसरे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई दर्शकों द्वारा बुमराह-सिराज को गालियां देने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

क्रिकेट में कोई भी जाति नही होती है, हर क्रिकेटर अपने देश के लिए खेलता है और वो मैदान में सिर्फ क्रिकेटर होता है। क्रिकेट सभ्य खेल है और इसमें नस्ली टिप्पणियों की कोई जगह नहीं है, लेकिन कई बार दर्शक अपनी हदों को पार करते हुए स्टेडियम में खिलाड़ियों पर फब्तियां कसते देखे सुने जाते हैं। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रहे सिडनी टेस्ट के दौरान भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला, जब रविवार को सिराज दूसरे सत्र के खेल के दौरान बाउंड्री के पास तैनात थे, तभी किसी दर्शक ने उन्हें लेकर टिप्पणी की। सिराज तुरंत कप्तान अजिंक्य रहाणे के पास पहुंचे और उन्हें इसकी जानकारी दी। इसके बाद पुलिस की मदद से छह लोगों की पहचान करने के बाद उनको स्टेडियम से बाहर कर दिया गया। इसी बीच, ऑस्ट्रेलियाई फैन्स द्वारा की गई बदसलूकी का वीडियो सामने आया है, जिसमें वह बाउंड्री पर खड़े मोहम्मद सिराज को अपशब्द कहते हुए दिखाई दे रहे हैं।

सोशल मीडिया पर शेयर किए गए इस वीडियो में सुना जा सकता है कि बाउंड्री लाइन पर फील्डिंग कर रहे मोहम्मद सिराज को ‘ब्राउन डॉग’ कहते हुए नजर आ रहे हैं। इसके अलावा, अन्य दर्शक भी सिराज पर नस्ली टिप्पणियां कर रहे हैं। इससे पहले, बीसीसीआई सूत्र ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर पीटीआई को बताया था कि सिराज को ‘ब्राउन डॉग’ और ‘बिग मंकी’ कहा गया जो दोनों नस्ली टिप्पणी हैं। मैदानी अंपायरों को तुरंत इस मामले की जानकारी दी गई। वे बुमराह को भी लगातार गालिया दे रहे थे। रविवार को ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी के 86वें ओवर के दौरान सिराज को बाउंड्री से आकर स्क्वायर लेग अंपायर से बात करते देखा गया जिसके बाद गेंदबाजी छोर के अंपायर और बाकी सीनियर खिलाड़ी भी वहां आकर चर्चा करने लगे।

 

Gyan Dairy

इस दौरान खेल लगभग 10 मिनट रुका रहा जिसके बाद स्टेडियम के सुरक्षाकर्मी और न्यू साउथ वेल्स पुलिस के कर्मचारी संबंधित स्टैंड में गए जहां से अपशब्द कहे जा रहे थे। पास के क्षेत्र में बैठे लोगों से बात करने के बाद पुलिस ने छह समर्थकों को स्टेडियम से बाहर निकाल दिया और अब ये न्यू साउथ वेल्स पुलिस की हिरासत में हैं। पता चला है कि शनिवार को भारतीय टीम ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद मैच अधिकारियों को दर्शकों के दुर्व्यवहार के बारे में बताया था लेकिन तब तक वे स्टेडियम से जा चुके थे। सूत्र ने कहा कि असल में खिलाड़ी मैच के दौरान अपना ध्यान नहीं भटकाना चाहते थे और फैसला किया गया कि दिन का खेल खत्म होने के बाद इस मामले की शिकायत की जाएगी। हालांकि अंपायरों ने हमें कहा कि जब भी इस तरह की कोई चीज हो तो खिलाड़ी तुरंत इसकी जानकारी दें। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का वादा किया है और मेहमान टीम से माफी भी मांगी है।

Share