योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, इटावा में इनामी गैंगस्टर अनीस पासू की 6 करोड़ की संपत्ति हुई सीज

इटावा। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने लगातार माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई शुरू कर रखी है, अ​तीक हों या मुख्तार, स​बके अवैध धंधों और अवैध कब्जों का पर्दाफाश हो रहा है. इसी के चलते इटावा जिले के कुख्यात गैंगस्टर अनीस पासू पर जिला प्रशासन ने सोमवार को कार्रवाई करते हुए 6 करोड़ की संपत्ति सीज कर दी. पासू को जिंदा या मुर्दा पकड़ने के लिए पुलिस ने 50 हजार का इनाम घोषित किया है. एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि इस अपराधी पर रंगदारी के अलावा हत्या के प्रयास की साजिश करने के मामले में फरार रहने के कारण 50 हजार का इनाम घोषित किया गया है.

पिछले माह 27 अक्टूबर को इटावा की कोतवाली पुलिस ने उसके भाई हनीफ उर्फ डब्बू,नासिर और चमन वारसी को गिरफ्तार किया था. फैजल खान नामक शख्स से अनीस पासू का जमीन को लेकर विवाद चल रहा था. अनीस के गिरोह के सदस्यों ने जबरदस्ती उसकी दुकानों का फर्जी तरीके से बैनामा करा लिया था. एसएसपी के मुताबिक अनीस पासू पर इटावा जिले के विभिन्न थानों में 42 अपराधिक मामले दर्ज है. पासू के बेटे इरफान उर्फ मुन्ना के खिलाफ हत्या समेत 7 अपराधिक मामले दर्ज है. पासू के भाई हनीफ उर्फ डब्बू के खिलाफ हत्या समेत 8 अपराधिक मामले है.

Gyan Dairy

गैंगस्टर और पुलिस के बीच कनेक्शन
इटावा के एसएसपी आकाश तोमर को जब गैंगस्टर और पुलिस के बीच कनेक्शन की खबर मिली तो इसकी गहनता से जांच कराई गई. जिसमे नया शहर चौकी इंचार्ज जितेंद्र कुमार व कांस्टेबल बबलू अली के गैंगस्टर अनीस उर्फ पासू से संपर्क में रहने पुष्टि हुई. कोतवाल की रिपोर्ट के बाद दोनों को निलंबित कर दिया गया है. मामले की जांच एसपी क्राइम ज्ञानेंद्र नाथ प्रसाद को दी गई है. जिसकी गहनता से जांच कराई जा रही है.

Share